उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार योजना 2020 | Uttar Pradesh Mission Rojgar Yojana in Hindi

0
14

उत्तर प्रदेश मिशन रोजगार योजना 2020 (Uttar Pradesh Mission Rojgar Yojana) (Launched Detail, Job Fear, Helpdesk in Hindi)

उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने यूपी के सभी युवा बेरोजगारों के लिए ठीक दीवाली के बाद यूपी मिशन रोजगार योजना को शुरू करेगी. यहां बता दें कि इस स्कीम के तहत यूपी के सभी शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए राज्य सरकार 30 मार्च 2021 तक 50 लाख नौकरियां निकालेगी. इस स्कीम के अंतर्गत उन युवा शिक्षित बेरोजगारों को नौकरी दी जाएगी जिन्होंने कोविड-19 की वजह से अपनी नौकरी खो दी है.

up mission rojgar yojana in hindi

यूपी अयोध्या वर्चुअल दीपोत्सव ऑनलाइन पोर्टल में रजिस्टर करके सभी ने साथ में मनाई दिवाली, जानें कैसे.

Contents

यूपी मिशन रोजगार 2020 योजना के लांच की जानकारी

योजना का नामयूपी मिशन रोजगार
किस ने लांच कीमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
किसके लिए लांच कीराज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए
उद्देश्ययूपी के बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान करना
कब शुरू की गईसाल 2020

यूपी मिशन रोजगार क्या है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी मिशन रोजगार योजना को लागू करने का निर्णय लिया है ताकि कोरोनावायरस के कारण उत्पन्न आर्थिक मंदी को समाप्त किया जा सके और‌ ऐसा तभी हो सकेगा जब युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे. यूपी की राज्य सरकार ने इस योजना के अंतर्गत अगले चार-पांच महीनों में लगभग 50 लाख युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य बनाया है.

मिशन शक्ति अभियान के तहत उत्तरप्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए अपराधियों की फोटो को चौराहे पर लगायेगी.

यूपी मिशन रोजगार में रोजगार के अवसर

बता दें कि मिशन रोजगार योजना के तहत पढ़े लिखे बेरोजगार युवाओं के अलावा उन युवाओं को भी नौकरी के लिए आवेदन करने का अवसर दिया जाएगा जिन्होंने कुछ महीनों में अपनी नौकरी खो दी है. बता दें कि राज्य के युवा सरकारी विभागों, परिषदों, निगमों में नौकरी के लिए अपना आवेदन/ रजिस्ट्रेशन फार्म भर सकेंगे. इसके साथ साथ यूपी की राज्य सरकार प्राइवेट सेक्टर्स में भी युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए निजी कंपनियों के साथ सहयोग करके नौकरियों का सृजन करेगी.

बेरोजगारों का आधिकारिक डाटा

जानकारी दे दें कि फरवरी 2020 तक यूपी में आधिकारिक सरकारी आंकड़ों के अनुसार तकरीबन 34 लाख बेरोजगार लोग थे. लेकिन देशभर में कोरोनावायरस के कारण लॉकडाउन के बाद लगभग 40 लाख लोग वापस यूपी लौट आए क्योंकि वे सभी दूसरे राज्यों में काम करते थे. यूपी राज्य में जो लोग वापस लौटे हैं उनमें से कम से कम आधे कुशल, अर्ध कुशल या फिर अकुशल श्रमिक हैं. बता दें कि राज्य सरकार ने मिशन रोजगार योजना को शुरू करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं. मिशन रोजगार के अंतर्गत यूपी सरकार राज्य के सभी युवाओं को स्वरोजगार सृजन करने में भी सहायता करेगी और इसको केंद्र सरकार की भारत निर्मल भारत योजना के साथ जोड़ दिया जाएगा.

यूपी एनआरआई कार्ड में अपनी पात्रता एवं लाभ को चेक करते हुए आवेदन ऐसे करें.

बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार हेल्प डेस्क

यहां बता दें कि यूपी सरकार के चीफ सेक्रेटरी ने यह कहा है कि मिशन रोजगार योजना के तहत हर विभाग और सभी संगठनों में एक रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित किया जाए जो विभिन्न विभागों के द्वारा चलाए जा रहे रोजगार के कार्यक्रमों के बारे में बेरोजगार युवाओं को जानकारी देगा.  

नौकरी के अवसरों के डेटाबेस का निर्माण

यहां बता दें कि यूपी की राज्य सरकार राज्य के युवाओं के लिए रोजगार के अवसरों का एक डेटाबेस बना रही है. बता दें कि इस स्कीम के लिए डायरेक्टरेट ऑफ ट्रेनिंग एंड एंप्लॉयमेंट द्वारा एक वेब पोर्टल और ऐप बनाया जा रहा है जहां पर रोजगार से संबंधित आंकड़े अपडेट किए जाया करेंगे जिससे कि राज्य के युवाओं को रोजगार के अवसर सुविधापूर्वक प्राप्त हो सकेंगे.

नवीन छतरी योजना के तहत सरकार से आर्थिक मदद पाकर शुरू स्वयं का व्यवस्य शुरू किया जा सकता है, जानें कैसे.

यूपी मिशन रोजगार अभियान जॉब फेयर

यूपी के सभी निदेशालयों, कॉरपोरेशन्स, बोर्ड्स, कमीशन्स इत्यादि को एक नोडल ऑफिसर को नियुक्त करने के लिए कहा गया है ताकि वह इस अभियान को ट्रैक करने के साथ-साथ विभिन्न हितधारको के साथ कोऑर्डिनेट कर सके. बता दें कि यूपी मिशन योजना की देखरेख और कोऑर्डिनेट के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर एंड इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट के कमिश्नर को नियुक्त किया गया है. इसके अलावा मुख्य सचिव अध्यक्षता वाली एक उच्च समिति इस योजना की मासिक रूप से निगरानी करेगी.

यहां बता दें कि हर डिस्ट्रिक्ट में एक डीएम की अध्यक्षता में एक समिति बनाई जाएगी जिसका काम नौकरी के लिए कार्य योजना तैयार करना होगा. इसके साथ-साथ यह भी जानकारी दे दें कि प्रशिक्षण और रोजगार निदेशालय निजी उद्योगों के साथ मिलकर रोजगार मेले आयोजित करेगा और जो पेंडिंग एंप्लॉयमेंट मामले होंगे उनको हल करेगा.

FAQ

Q : यूपी मिशन रोजगार योजना को किसने शुरू किया है ?

 Ans : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.

Q : क्या उत्तर प्रदेश के बाहर के लोग यूपी मिशन रोजगार योजना का लाभ ले सकेंगे ?

Ans : नहीं.

Q : उत्तर प्रदेश रोजगार मिशन 2020 योजना का क्या उद्देश्य है ?

Ans : कोविड-19 के कारण जो युवा अपने नौकरी खो चुके हैं उनको रोजगार प्रदान करना.

Q : उत्तर प्रदेश रोजगार मिशन स्कीम के अंतर्गत कितने युवाओं को रोजगार दिया जाएगा ?

Ans : 50 लाख युवाओं को.

Q : उत्तर प्रदेश रोजगार मिशन योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

Ans : इससे संबंधित वेबपोर्टल और ऐप बनाया जा रहा है.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here