यूपी एनआरआई कार्ड 2020 : आवेदन फॉर्म | UP NRI Card Overseas Employment in hindi

0
33

यूपी एनआरआई कार्ड 2020 (आवेदन फॉर्म, लाभ, पात्रता) (UP NRI Card / Overseas Employment in hindi Apply Online Portal at nri.up.gov.in)

कोरोना काल में लगे लॉकडाउन की वजह से विदेशों में जो लोग नौकरी कर रहे हैं उन्हें अपने घरों एवं परिवार के लिए सरकार से मदद प्राप्त करने के लिए कोई मंच नहीं मिल रहा था. साथ ही जो लोग विदेश में जॉब करना चाहते हैं उन्हें भी इसके लिए कोई सहायता नहीं मिल रही थी. ऐसे लोगों की परेशानियों का हल निकालने एवं यूपी के एनआरआई प्रवासी मजदूरों की सहायता के लिए उत्तरप्रदेश सरकार ने 24 अगस्त सोमवार को एक पोर्टल लांच किया है. जिसका नाम है यूपी एनआरआई पोर्टल, और इस पोर्टल में आवेदन करने वाले लाभार्थियों को एक ‘यूपी एनआरआई कार्ड’ प्रदान किया जायेगा. जिससे उन्हें विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सकेगा. यूपी एनआरआई कार्ड क्या है, एवं इसके लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं इसकी जानकारी आपको यहाँ इस लेख में मिल जाएगी.

up-nri-card-overseas-employment-apply

Contents

यूपी एनआरआई कार्ड के लांच की जानकारी  

नामयूपी एनआरआई कार्ड
राज्यउत्तरप्रदेश
लांच किया गयायोगी आदित्यनाथ जी द्वारा
लाभार्थीयूपी के एनआरआई एवं यूपी के निवासी
अधिकारिक पोर्टलयूपी एनआरआई पोर्टल nri.up.gov.in
संबंधित विभागउत्तरप्रदेश का एनआरआई विभाग

यूपी एनआरआई पोर्टल से होने वाले लाभ

  • उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा शुरू किये गये इस यूपी एनआरआई पोर्टल को लांच करने के पीछे का उद्देश्य है, यूपी के प्रवासी भारतीयों की मदद करना.
  • इस पोर्टल के माध्यम से यूपी में निवेश करने में मदद मिलेगी और साथ ही उन लोगों को नौकरियों के अवसर प्राप्त होंगे, जोकि विदेश जाना चाहते हैं.
  • इस योजना के लाभार्थियों को यूपी एनआरआई कार्ड प्रदान किया जायेगा. जिससे वे इस पोर्टल के माध्यम से मिलने वाली सुविधा का लाभ उठा सकते हैं.
  • यह पोर्टल विदेशी भारतीयों और अनिवासी भारतीयों के लिए स्थानीय प्रशासन या राज्य सरकार के साथ उनकी समस्याओं को हल करने में भी मददगार साबित होगा.
  • इसके अलावा ऐसे कई लोग जो विदेश में रह रहे हैं और अपने गाँव और परिवार के साथ लगातार संपर्क में हैं, लेकिन क्योंकि वे विदेश में हैं, इसलिए उन्हें अपने परिवार की स्थानीय समस्या जैसे – उनके घर से जुड़ी समस्याओं एवं स्थानीय प्रशासन के मुद्दों के समाधान में मदद करने के लिए कोई प्लेटफॉर्म नहीं मिला था. उन्हें यह पोर्टल एक प्लेटफॉर्म प्रदान कर रहा है.

यूपी एनआरआई कार्ड के लिए पात्रता मापदंड

  • उत्तरप्रदेश का निवासी :- यूपी एनआरआई पोर्टल में केवल उत्तरप्रदेश का मूल निवासी ही रजिस्ट्रेशन कर सकता है.
  • एनआरआई :- इसका लाभ विदेशों में रहने वाले यूपी के एनआरआई को ही प्राप्त होगा.
  • विदेशी नौकरी के इच्छुक :- इसके अलावा इस पोर्टल में ऐसे व्यक्ति भी आवेदन करने के लिए पात्र हैं जोकि विदेश में नौकरी करना चाहते हैं.

यूपी एनआरआई कार्ड के लिए आवेदन करने में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज

  • निवास प्रमाण पत्र :- इस पोर्टल में आवेदन करने वाले लाभार्थी के पास उसके पते के प्रमाण के रूप में निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है.
  • विदेश में नौकरी का प्रमाण पत्र :- लाभार्थी विदेश में नौकरी कर रहा है यानि कि एनआरआई है इसका प्रमाण पत्र भी उन्हें दिखाना आवश्यक है.
  • पासपोर्ट :- लाभार्थी की पहचान के लिए जरूरी है कि वह अपने पासपोर्ट की कॉपी को स्कैन करे. क्योकि इसकी जरुरत आवेदन फॉर्म में पड़ सकती है.
  • रिज्यूमे :- विदेश में नौकरी की तलाश करने के इच्छुक लोगों को अपना रिज्यूमे स्कैन करना होगा. जिसे आवेदन के दौरान अपलोड कर सकें. 
  • इमेज :- इसी तरह से लाभार्थी को अपनी फोटो को भी स्कैन करना होगा जोकि आवेदन फॉर्म में स्टैच की जा सकें.
  • सिग्नेचर :- आवेदक अपने सिग्नेचर को भी स्कैन कर लें. इसकी आवश्यकता आवेदन फॉर्म को भरने में पड़ेगी.

यूपी एनआरआई पोर्टल के माध्यम से पर्यटन को बढ़ावा

योगी जी का कहना है कि प्रयागराज में आयोजित महाकुंभ का जिस तरह से प्रचार किया गया था, उसी तरह यूपी एनआरआई पोर्टल पर्यटन को बढ़ावा देने में मदद करेगा. दरअसल मुख्यमंत्री ने हाल ही में फ्रांस, जापान, दक्षिण कोरिया जैसे विभिन्न देशों के राजदूतों के साथ बातचीत की. और उन्होंने सुझाव दिया कि अपने देश के लोगों की रुचि के अनुसार पर्यटन पैकेज होने चाहिए. इसलिए इस पोर्टल पर ऐसे पैकेज भी प्रदर्शित किए जाएंगे, जो उनकी सभी समस्याओं के लिए अनिवासी भारतीयों के लिए एक इंटरैक्टिव प्लेटफॉर्म के रूप में काम करेंगे। पिछले साल, कई लोगों ने अयोध्या में दीपोत्सव में रुचि दिखाई थी और इसलिए यूपी सरकार ने उन सांस्कृतिक कार्यक्रमों को इस पोर्टल पर लाइव स्ट्रीम करने का भी निर्णय लिया है.

यूपी एनआरआई कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

  • सबसे पहले लाभार्थी को यूपी एनआरआई पोर्टल में जाना होगा, जोकि यूपी एनआरआई विभाग की अधिकारिक वेबसाइट है.
  • यहाँ पहुँचने के बाद उन्हें सीधे हाथ की ओर एक ‘सर्विस ऑफ डिपार्टमेंट’ का ब्लॉक दिखाई देंगा, उसमें बहुत सारे विकल्प दिए होंगे. जिसमें से उन्हें ‘अप्लाई फॉर यूपी एनआरआई कार्ड’ वाले विकल्प पर क्लिक करना है.
  • यहाँ से आप दूसरे पेज में पहुंचेंगे जहाँ पर प्रवासी भारतीय लॉग इन एवं एडमिन लॉग इन करके दो ब्लॉक नजर आयेंगे. प्रवासी भारतीय लॉग इन वाले ब्लॉक में लाभार्थी को नया रजिस्ट्रेशन कराने के लिए एक लिंक शो होगी.
  • उस पर क्लिक करते ही उनकी स्क्रीन पर प्रवासी भारतीयों के लिए आवेदन फॉर्म खुल जायेगा. लाभार्थियों को यह फॉर्म भरकर ‘पंजीकृत करें’ विकल्प पर क्लिक करना होगा.
  • इससे उनका इसमें रजिस्ट्रेशन हो जायेगा और उसके बाद उन्हें एक आईडी एवं पासवर्ड प्राप्त होगा जिससे वे इस पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं.

विस्तार से अधिक जानकारी के लिए इसी पोर्टल में ‘गाइडलाइन्स टू यूज़ एनआरआई पोर्टल’ वाली लिंक पर क्लिक करें. यहाँ आपको सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

विदेशी रोजगार के लिए आवेदन कैसे करें

  • यदि विदेशी रोजगार के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो उत्तरप्रदेश के निवासी को इसके अधिकारिक पोर्टल में जाने के बाद ‘सर्विस ऑफ डिपार्टमेंट’ वाले ब्लॉक में से ‘अप्लाई फॉर ओवरसीज एम्प्लॉयमेंट’ वाली लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद उन्हें अगले पेज में सबसे नीचे एक लिंक दिखाई देगी, जिस पर लिखा होगा ‘विदेशी नियोजन हेतु यहाँ क्लिक करें’. उस पर क्लिक कर दें.
  • इसके बाद उनकी स्क्रीन पर अगले पेज में विदेशी रोजगार के लिए आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया एक फ्लो चार्ट के माध्यम से शो होगी.
  • उसे पढ़कर आवेदन फॉर्म भर सकते हैं, आवेदन फॉर्म उन्हें ‘जॉब सीकर रजिस्ट्रेशन’ वाले ब्लॉक पर क्लिक करके प्राप्त हो जायेगा.
  • फिर इसमें उन्हें सभी जानकारी भरने के बाद सभी दस्तावेजों को इसमें अपलोड करना होगा.
  • अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करते हुए आवेदन प्रक्रिया को विराम दे देना होगा. इस तरह से आपका इसमें रजिस्ट्रेशन हो जायेगा.

यूपी एनआरआई पोर्टल में शिकायत की सुविधा

उत्तरप्रदेश राज्य से संबंधित एनआरआई / पीआईओ / ओसीआई एवं प्रवासियों की सभी शिकायतों का समय पर निवारण हो सकें, यह सुविधा भी इस पोर्टल में दी गई है. अतः इस पोर्टल में शिकायत के निवारण के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है. इस पोर्टल के माध्यम से शिकायत फाइल की वास्तविक समय स्थिति भी प्रदान होगी. शिकायतों को हैंडल करने वाले जिले एवं पुलिस स्टेशन के बारे में जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध होगी. इस योजना के लाभार्थी इस पोर्टल के माध्यम से उन्हें जो भी परेशानी है उसकी शिकायत कर सकते हैं. सम्पर्क करने की जानकारी इस प्रकार है –

  • सेवाओं, योजनाओं और नीतियों से संबंधित मुद्दों के लिए हेल्पलाइन नंबर +91 522 4954646, 4042663 है.
  • लोग अपनी शिकायत ईमेल आईडी nricellup@gmail.com पर मेल भी कर सकते हैं.
  • अगर लाभार्थी को यूपी पोर्टल के बारे में किसी भी तकनीकी सहायता की आवश्यकता है तो वे तकनीकी हेल्पलाइन नंबर +91 522 4150500 पर कॉल कर सकते हैं.  

तो इस तरह से उत्तरप्रदेश सरकार अपने राज्य के प्रवासी भारतीयों की मदद करना चाहती हैं. इसलिए इस मंच को लांच किया गया है. अतः अब यूपी के एनआरआई को राहत मिलेगी.

FAQ

Q : यूपी एनआरआई पोर्टल में एक्सेस करने के लिए अधिकारिक लिंक क्या है ?

Ans : अधिकारिक लिंक http://nri.up.gov.in/ है.

Q : उत्तरप्रदेश एनआरआई विभाग की वेबसाइट कब और किसने लांच की ?

Ans : उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 24 अगस्त, 2020 को.

Q : यूपी एनआरआई पोर्टल में कौन सी ऑनलाइन सेवा उपलब्ध है ?

Ans : यह पोर्टल यूपी एनआरआई कार्ड, यूपी प्रवासी भारतीय रत्न पुरस्कार के लिए आवेदन करने की ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करता है.

Q : यूपी एनआरआई कार्ड के लिए कौन आवेदन दे सकता है ?

Ans : भारत के गैर निवासी नागरिक जोकि यूपी से संबंध रखते हैं, वे यूपी एनआरआई कार्ड के लिए आवेदन दे सकते हैं साथ ही यूपी में वे निवेश भी कर सकते हैं.

Q : विदेशी नौकरी के लिए कौन आवेदन दे सकता है ?

Ans : उत्तरप्रदेश का रहने वाला कोई भी व्यक्ति जो विदेश में जॉब करना चाहता है.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here