सुराजी गांव योजना छत्तीसगढ़ क्या है | Suraji Gaon Yojana Kya Hai in Hindi

0
14

सुराजी गांव योजना क्या है, छत्तीसगढ़, शुरुआत, उद्देश्य (Suraji Gaon Yojana Kya Hai, Launch Date in Hindi)

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने राज्य के किसानों को आत्मनिर्भर बना कर गांव की अर्थव्यवस्था को सुधारने और पशुओं को संरक्षण देने के लिए सुराजी गांव योजना को शुरू किया है. यहां जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना के माध्यम से गांव में रहने वाले लोगों की आर्थिक दशा को सुधारा जाएगा. अगर आप छत्तीसगढ़ के रहने वाले एक नागरिक हैं और आपको सुराजी गांव योजना के बारे में जानकारी नहीं है तो हमारे आज के इस पोस्ट को अंत तक पड़े क्योंकि हम इस योजना के बारे में सारी जानकारी आज देने वाले हैं.

cg suraji goan yojana in hindi

CSPDCL मोर बिजली मोबाइल एप्प छत्तीसगढ़ : अब बिजली बिल का भुगतान, मीटर रीडिंग एवं शिकायत आदि हो सकेगा ऑनलाइन, जानिए कैसे.

सुराजी गांव योजना का मुख्य उद्देश्य

यहां जानकारी के लिए बता दें कि सुराजी गांव योजना का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ के सभी राज्य के किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के साथ-साथ पशुओं को भी संरक्षण देना है. इस प्रकार सड़क पर घूमने वाले पशुओं के लिए गौशालाएं बनाई जाएंगी और उनके लिए चारे का भी बंदोबस्त किया जाएगा. इसके साथ-साथ राज्य सरकार जलवायु में होने वाले बदलाव को भी संतुलित करने के लिए प्रयास करेगी.

सुराजी गांव योजना के तहत पशुओं को संरक्षण

छत्तीसगढ़ राज्य में आवारा मवेशी पशु दिन भर इधर-उधर घूमते रहते हैं जो कि एक बहुत ही गंभीर समस्या है. इस प्रकार राज्य के लोगों को भी समस्या होती है और इस तरह से पशुओं के लिए भी सड़कों पर घूमना सुरक्षित नहीं होता है. इसीलिए इस परेशानी को हल करने के लिए छत्तीसगढ़ की राज्य सरकार ने सुराजी गांव योजना के बारे में बताया जो सभी आवारा पशुओं को सुरक्षित करने के लिए एक बहुत उत्तम तरीका है. पशुओं के संरक्षण के उपायों के अलावा उनके लिए चरागाह भूमि यानी जगह की व्यवस्था करना है. साथ ही यह भी बता दें कि मध्य प्रदेश की राज्य सरकार का यह प्रयास है कि छत्तीसगढ़ के हर गांव में गौथन यानी गौशाला बनाई जाए ताकि पशुओं को संरक्षित किया जा सके.

अटल किसान मजदूर कैंटीन योजना हरियाणा : भोजन मिलेगा केवल 10 रूपये में.

सुराजी गांव योजना किसानों के लिए

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार सुराजी गांव योजना के तहत आवारा पशुओं को संरक्षण देने के अलावा राज्य के किसानों को भी लाभ दिया जा रहा है. बता दें कि राज्य के सभी किसानों के लिए नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी जैसे विकास कार्य किए जा रहे हैं ताकि किसान अपनी खेती बाड़ी करके अपनी कमाई बढ़ा सकें. जानकारी के लिए बता दें कि राज्य के कृषकों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राज्य सरकार ने कई महत्वपूर्ण कार्य किए हैं जिससे कि राज्य की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जा सके.

सुराजी गांव योजना जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए  

यहां बता दें कि छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा सुराजी गांव योजना के तहत जलवायु परिवर्तन चुनौतियों से निपटने के लिए प्रकृति के वातावरण में संतुलन बनाने के कई प्रयास किए जा रहे हैं. बता दें कि सुराजी गांव योजना के तहत नरवा योजना को शुरू कर के पानी को फिर से इस्तेमाल करने योग्य बनाया जाएगा. साथ ही राज्य में ज्यादा से ज्यादा पेड़ पौधे लगाए जाएंगे और कुएं, तालाब इत्यादि का भी निर्माण किया जाएगा.

झारखण्ड आजीविका संवर्धन हुनर अभियान : ग्रामीण महिलाओं को मिल रहे हैं रोजगार के अवसर जानिए क्या है योजना.

सुराजी गांव योजना के लाभ

  • सुराजी गांव योजना छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की तरफ से उठाया गया एक बहुत ही बेहतरीन कदम है जिसके द्वारा छत्तीसगढ़ की राज्य सरकार ने सभी बेघर और आवारा पशुओं को संरक्षण की सुविधा देने की बात कही है.
  • इसके अलावा सरकार ने राज्य के सभी किसानों के लिए सुराजी गांव योजना के तहत किसानों के लिए विकासशील कार्य किए जाएंगे जिससे कि गांव की अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाया जा सके.
  • इसके तहत जलवायु की चुनौतियों से निपटने के लिए भी विभिन्न कदम उठाए जाएंगे और राज्य में वृक्षारोपण, मिट्टी के बांध, खेती की मेढ़े, कुएं और तालाब बनाए जाएंगे.

इस तरह से छत्तीसगढ़ सरकार अपने राज्य में पालतू एवं आवारा जानवरों एवं किसानों के विकास के लिए काम कर रही है.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here