सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज अभियान 2020 | Safai Mitra Suraksha Challenge in Hindi

0

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज अभियान, 2020, लांच, मशीनरी द्वारा सभी सीवर और सेप्टिक टैंक की सफाई का संचालन (Safai Mitra Suraksha Challenge in Hindi) (All Sewer & Septic Tank Cleaning Operations, Start, Last Date, Result, Official Launch, Citizens Role)

साफ सफाई का ध्यान रखना बेहद आवश्यक होता है ऐसे में जब कोरोना महामारी पैर पसारती नजर आ रही है तब तो सफाई का दायित्व भारत के प्रत्येक नागरिक पर बहुत ज्यादा बढ़ जाता है. जितना कर्तव्य नागरिकों का होता है उतना ही कर्तव्य सरकार का भी होता है और सरकार ने अपने कर्तव्य को निभाने के लिए विश्व शौचालय दिवस पर केंद्रीय आवास और शहरी मंत्रालयों की साफ सफाई के लिए सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज का प्रारंभ किया है. इस चैलेंज की शुरुआत 19 नवंबर से हो गई है और 2021 के अगस्त महीने तक इसका संचालन होगा. आइए इस योजना के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त कर लेते है.

safai mitra suraksha challenge in hindi

आयुष्मान सहकार योजना : मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए सहकारी संस्थानों को मिल रहा है 10 हजार करोड़ रूपये का ऋण.

Table of Contents

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज अभियान में कुछ महत्वपूर्ण तिथियाँ

सफाइ मित्र सुरक्षा चैलेंज के लिए आरंभ तिथि19 नवंबर 2020
सफाई मित्र चुनौती के लिए अंतिम तिथि30 अप्रैल 2020
स्वतंत्र एजेंसी द्वारा भाग लेने वाले शहरों का ऑन-ग्राउंड मूल्यांकन2021 मई
सफैमित्रा सुरक्षा चुनौती के परिणाम की घोषणा15 अगस्त 2021

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज 2020 क्या है

सरकार द्वारा जारी किया गया यह चैलेंज देश के 243 शहरों में कार्यान्वित किया जाएगा जिसके तहत अगस्त 2021 तक सभी सीवर और सेप्टिक टैंक की पूरी तरह से सफाई की जाएगी.

कला संस्कृति विकास योजना की प्रमुख बिंदु एवं अनुदान कार्यक्रम के बारे में जानिए.

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज का मुख्य उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य सीवर और सेप्टिक टैंक की खतरनाक सफाई को यंत्री कृत रूप से किये जाने को महत्व देना है. इस योजना से नागरिक जागरूकता को बढ़ाने का भी काम सरकार द्वारा किया जाएगा. इस योजना के लिए बहुत सारे कर्मचारियों को काम पर लगा दिया गया है.

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज विजेता को पुरस्कार

यही योजना प्रतियोगिता के तौर पर कार्यान्वित की जाएगी इसलिए बेहतरीन कार्य करने वाले शहरों को पुरस्कार भी दिया जाएगा. इस योजना के अंतर्गत विजेता शहर को तीन श्रेणियों में सम्मानित किया जाएगा जिसके लिए 52 करोड़ रुपए की राशि निर्धारित की गई है.

स्टार्स योजना : राज्यों में टीचिंग – लर्निंग एवं रिजल्ट को मजबूत करने शुरू हुई योजना के लाभ जानिए.

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज का आधिकारिक शुभारंभ

इस चैलेंज के लिए वर्चुअल इवेंट लॉन्च किया गया है जिसमें मुख्य सचिवों और राज्य मिशन निदेशकों के साथ-साथ अन्य वरिष्ठ राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के लोग प्रतिज्ञा लेते हुए नजर आएंगे. इस चैलेंज में 243 शहरों का नाम सूचीबद्ध किया गया है जहां पर मौजूद सभी राज्य मिशन निदेशक और अन्य अधिकारी अपने राज्य की पूरी साफ सफाई की शपथ लेंगे.

सफाई मित्र सुरक्षा चुनौती की आवश्यकता

सीवर और सेप्टिक टैंक की सफाई मानवीय तौर पर करने से बहुत सारे कर्मचारियों की मौत होती आई है. इस बात को ध्यान में रखते हुए अब नए नए तरीकों से मैनुअल प्रवेश को रोकते हुए टेक्नोलॉजी के साथ यह कार्य करने की तैयारी कर दी गई है. मैन्युअल स्कैवेंजर्स और उनके पुनर्वास अधिनियम 2013 के रूप में यह रोजगार का निषेध और माननीय सुप्रीम कोर्ट के विभिन्न निर्णय स्पष्ट रूप से खतरनाक सफाई पर रोक लगाते हैं जिन पर अब पूरी तरह से विचार किया जाएगा. एम ओ एच यू ए मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस चुनौती की घोषणा करते हुए यह बताया कि यह चुनौती मुख्य रूप से राजनीतिक प्रतिनिधियों नौकरशाहों या नगरपालिका अधिकारियों पर ही नहीं बल्कि देश के प्रत्येक नागरिक के लिए बेहद जरूरी है.

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना : ग्रामीण क्षेत्र की भूमि रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण, ऐसे डाउनलोड करें प्रॉपर्टी कार्ड.

सफाई मित्र सुरक्षा चुनौती अभियान में नागरिकों को शामिल करने का निर्णय

सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम मुख्य रूप से नागरिकों के लिए ही है इसलिए इस सफाई मित्र सुरक्षा योजना के अंतर्गत नागरिकों की अहम भूमिका रहेगी. नागरिकों की भूमिका इस प्रतियोगिता में अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि लोगों को इस चुनौती के जरिए सतर्क और जिम्मेदार होने के साथ-साथ स्वच्छ रहने की कमांड भी दी जाएगी.

स्वच्छ भारत मिशन शहरी प्रगति

साल 2014 में स्वच्छ भारत मिशन शहरी का अधिकारिक लांच किया गया था जिसके बाद शहरी क्षेत्रों में स्वच्छता और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन दोनों ही क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रगति देखने को मिली है. 4337 शहरी स्थानीय निकायों में शौचालय का प्रबंध किया गया ताकि खुले में शौच करने की प्रक्रिया बंद की जाए. इसके अलावा 62 लाख से अधिक व्यक्तिगत घरेलू शौचालय और 5.9 लाख सामुदायिक अथवा सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण अब तक किया जा चुका है. इसके साथ साथ 2900 से अधिक शहरों में 59900 से अधिक शौचालय तो गूगल के मानचित्र पर लाइव भी हो चुके हैं. निवासियों के आसपास साफ-सफाई रहे इस बात को ध्यान में रखते हुए भी 97% वार्ड में डोर टू डोर कूड़े को कलेक्ट करने के लिए गाड़ियां भी लगाई गई.

प्रधानमंत्री घर तक फाइबर योजना के तहत अब हर घर पहुंचेगी इन्टरनेट सुविधा, जानिए क्या है योजना.

स्वच्छता अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना हर नागरिक का अधिकार है क्योंकि जब आप का आसपास का माहौल स्वच्छ रहेगा तभी तो कोरोना से यह जंग जीती जा सकेगी.

FAQ

Q : सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज का प्रारंभ कब किया गया ?

Ans : 19 नवंबर 2020.

Q : सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज कब तक चलाया जाएगा ?

Ans : अगस्त 2021.

Q : सफाई मित्रों सुरक्षा चैलेंज 2020 के अंतर्गत इन जगहों की सफाई का ध्यान रखा जाएगा ?

Ans : सीवर और सेप्टिक टैंक.

Q : सफाई मित्रों सुरक्षा चैलेंज अंतर्गत भाग लेने वाले प्रतियोगी शहरों के इनाम की घोषणा कब होगी ?

Ans : 15 अगस्त 2021.

Q : प्रतियोगिता में भाग लेने वाली शहरी स्वतंत्र एजेंसियों के काम का मूल्यांकन कब तक किया जाएगा ?

Ans : मई 2021.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here