Home Rajasthan राजस्थान आनंदम योजना 2021 | Rajasthan Anandam Scheme in hindi

राजस्थान आनंदम योजना 2021 | Rajasthan Anandam Scheme in hindi

0

राजस्थान आनंदम योजना 2021 (Rajasthan Anandam Scheme in hindi)

हमारे देश में समाज का बहुत अधिक महत्व है यहाँ विभिन्न तरह के समाज निहित हैं. इस समाज के प्रति लोगों को जागरूक किया जाता है ताकि वे समाज में अपना योगदान देकर उसके अनुरूप कार्य करें. इसके लिए बच्चों को छोटे से ही शिक्षा दी जाती है. लेकिन आज के समय में यह कहीं गुम हो गई है. आजकल बच्चे समाज की वैल्यू को गंभीरता से नहीं लेते हैं. इसी चीज को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार ने एक योजना की शुरूआत करने का ऐलान किया है, जोकि राजस्थान आनंदम योजना है. इस योजना के तहत कॉलेज के छात्रों को समाज के प्रति अपना योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा और इसके बदले में उन्हें अकेडमिक क्रेडिट दिया जायेगा. इस योजना की विस्तार से जानकारी आप यहाँ से जान सकते हैं –

rajasthan-anandam-scheme

राजस्थान आनंदम योजना के लांच की जानकारी

योजना का नामराजस्थान आनंदम योजना
राज्यराजस्थान
लांच की घोषणामुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा
लाभार्थीकॉलेज स्टूडेंट
संबंधित विभाग / मंत्रालयउच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग एवं समाज कल्याण विभाग

एक राष्ट्र एवं राशन कार्ड योजना के तहत अपने राशन कार्ड को ऐसे पोर्टेबल करायें.

राजस्थान आनंदम योजना की विशेषताएं

  • योजना का उद्देश्य :- यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा कॉलेज के छात्रों को समाज के प्रति उनका योगदान बेहतर हो यह सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शुरू की गई है.
  • दी जाने वाली सुविधा :- इस योजना के तहत सभी कॉलेज या यूनिवर्सिटी के छात्र समाज के प्रति जागरूक बन सकें यह सुविधा उन्हें दी जा रही हैं. हालाँकि इसके बदले में उन्हें अकेडमिक क्रेडिट भी प्रदान किया जा रहा है. 
  • सेवा के मोड का निर्धारण :- आनंदम योजना के तहत कॉलेज पाठ्यक्रम में कमुनिटी सर्विस को जोड़ा जायेगा, जोकि नागरिकों के समग्र विकास के लिए गांधीवादी विचारधारा से प्रेरित हो. आनंदम योजना छात्रों को सेवा के उस मोड को तय करने की अनुमति देगी, जिसमें वे अपना योगदान देने के इच्छुक हैं. 
  • कुल लाभार्थी :- इस योजना में कम से कम 20 लाख से भी ज्यादा कॉलेज के छात्रों को सामाजिक कारणों के लिए अनिवार्य रूप से स्वयं सेवक बनाया जा रहा है.
  • योजना से छात्रों को ख़ुशी :- राजस्थान में देखा गया है कि वहां पर शिक्षा प्रणाली बेहतर नहीं है, वहां शिक्षा की आवश्यकता अधिक होती हैं. इसलिए इसे संबंधित विभाग द्वारा एक पाठ्यक्रमों में क्रेडिट के रूप में पेश किया जा रहा है. जोकि युवाओं को सशक्त एवं समझदार बना सकता है. 
  • युवाओं के लिए अकेडमिक क्रेडिट :- इस योजना में युवाओं को हर दिन अच्छाई का एक व्यक्तिगत कार्य करने के लिए निर्देश दिया जायेगा, और इसे करने के बाद एक रजिस्टर में इसे दर्ज कर दिया जायेगा. उन्हें हर सेमेस्टर में एक कमुनिटी सर्विस प्रोजेक्ट को पूरा करने की आवश्यकता होगी. प्रत्येक युवा सेमेस्टर में एक प्रोजक्ट के लिए 2 क्रेडिट प्राप्त कर सकता है. प्रत्येक प्रोजेक्ट के लिए 50 अंक होंगे, और यह 4 महीने में पूरा होगा. इसके साथ ही मेंटर जो कोई और नहीं बल्कि फैकल्टी मेम्बर हैं रजिस्टर किये हुए सभी प्रोजेक्ट के रिकॉर्ड का प्रबंधन करके स्कूल या कॉलेज के प्रिंसिपल के सामने हर दिन प्रस्तुत करेंगे.

राजस्थान आनंदम योजना में प्रोजेक्ट के लिए कुछ सुझाव

  • साक्षरता कार्यक्रम.
  • आजीविका प्रोजेक्ट्स.
  • सरकारी कार्यक्रमों के लिए जागरूकता पैदा करने जैसे दत्तक समुदायों को समय देने वाली गतिविधियाँ.
  • योग, ध्यान या शारीरिक व्यायाम के लिए होल्डिंग सेशन.
  • कला एवं संस्कृति की बहाली के लिए गतिविधियाँ.
  • पर्यावरणीय जागरूकता और सांस्कृतिक विविधताओं की सराहना करने की दिशा में गतिविधियाँ.
  • कुछ प्रोजेक्ट गतिविधियाँ जैसे कि कम्युनिटी गार्डन में प्लांट लगाना, स्थानीय सामाजिक समस्याओं को अपने ऊपर लेना और बुजुर्गों की समस्याओं के समाधान के लिए कार्य करना आदि है.

कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत किसान किन यंत्रों के लिए अनुदान प्राप्त कर सकते हैं जानें.

राजस्थान आनंदम योजना में छात्रों की प्रगति रिपोर्ट

  • मेंटर मासिक आधार पर प्रोजेक्ट की समीक्षा करेंगे, और कॉलेज के नोडल अधिकारी को रिपोर्ट सौपेंगे. इसके बाद इसे गूगल स्प्रेडशीट पर उच्च अधिकारीयों के साथ साझा किया जायेगा.
  • प्रोजेक्ट रिपोर्ट का आकलन करने के लिए यूनिवर्सिटीज एवं राज्य स्तर पर अलग – अलग प्रोजेक्ट इवैल्यूएशन समितियों का गठन किया जायेगा.
  • प्रिंसिपल इस योजना के लाभार्थियों की संख्या एवं समाज पर प्रभाव को ध्यान में रखते हुए सर्वश्रेष्ठ प्रोजेक्ट रिपोर्ट का चयन करेंगे.
  • फिर उस प्रोजेक्ट रिपोर्ट को उच्च और शिक्षा विभाग की वेबसाइट एवं कॉलेज पेज पर अपलोड किया जायेगा.
  • इसके साथ ही राज्य स्तरीय प्रोजेक्ट इवैल्यूएशन समितियों से इवैल्यूएशन के बाद निदेशक या महाविद्यालय शिक्षा या उच्च एवं तकनिकी शिक्षा विभाग के द्वारा प्रमाण पत्र या प्रशंसा प्रत्र और राज्य स्तरीय पुरस्कार का वितरण भी छात्रों के लिए किया जायेगा.

अतः छात्रों में कम्युनिटी पार्टिसिपेशन के मुख्य मूल्यों के आधार का निर्माण करने के लिए यह योजना केवल एक एक्सरसाइज है.  

कमुनिटी सर्विस के लाभ

  • इस तरह की पहली योजना भारत में लागू की जा रही है. जोकि कॉलेज पाठ्यक्रमों में कमुनिटी सर्विस की शुरुआत कर रही है. इससे समाज में योगदान देने के साथ ही छात्रों को अपने आसपास के सामाजिक एवं प्रशासनिक सेटअप की बेहतर समझ हो सकेगी.
  • छात्रों को अपनी पसंद के अनुसार व्यवसायों में पहले से काम कर रहे लोगों के साथ संपर्क करने और पता लगाने का मौका मिलेगा.
  • इस योजना से छात्रों के पारस्परिक और संचार कौशल को भी विकसित किया जायेगा.
  • छात्रों द्वारा किये जाने वाले अच्छे कार्य उनके रिज्यूमे में भी शामिल होंगे. यह विशेष रूप से विदेशों में यूनिवर्सिटीज में प्रवेश के लिए आवेदन करने वालों के लिए बहुत अच्छा होगा, क्योंकि कम्युनिटी आउटरीच वहां के कई कॉलेजों की शैक्षणिक प्रक्रिया का एक हिस्सा एवं प्रयास रहा है.      

प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर योजना के तहत किसान ट्रेक्टर के लिए सरकार से सब्सिडी ले सकते हैं, ऐसे करें आवेदन.

राजस्थान आनंदम योजना में काम

राजस्थान आनंदम योजना छात्रों को अकेडमिक क्रेडिट देकर उन्हें सामाजिक सेवा के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए बनाई गई योजना है. जिसके तहत छात्रों को निम्न कार्य करने होंगे –

  • कॉलेज / यूनिवर्सिटी कैंपस में सफाई रखना,
  • झुग्गियों में रहने वाले बच्चों को पढ़ाना,
  • कुछ गैर सरकारी संगठन (NGO) के साथ जुड़ना,
  • इसके अलावा जिस प्रोजेक्ट का चुनाव कर रहे हैं उसके अनुसार किये जाने वाले कार्य आदि.

इस तरह से राजस्थान के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के द्वारा इस योजना के तहत छात्रों को समाज के कल्याण के लिए प्रेरित किया जायेगा. उन्हें किसी भी प्रकार का शैक्षणिक बोझ या राज्य का बोझ या वित्तीय बोझ या फिर अन्य कोई भी बोझ में शामिल नहीं किया जायेगा. इसके अलावा इसमें शिक्षकों की भूमिका छात्रों का मर्गदर्शन करने के लिए होगी. उन्हें किसी भी शारीरिक मूल्यांकन करने की आवश्यकता नहीं होगी.

अन्य पढ़ें –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here