प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना सूची 2020 | PM Kisan Mandhan Pension Yojana (PMKMY) 2020 in Hindi

0
50

प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना 2020 (Pradhan Mantri Kisan Mandhan Yojana (PM-KMY) 2020 in Hindi), चेक सूची, योग्यता, ऑनलाइन आवेदन, प्रीमियम, हेल्पलाइन, नियम (How to apply, Online Form, CSC Login, Eligibility, Documents, List)

किसानों द्वारा की जा रही कर्ज के कारण आत्महत्या के चलते इस समस्या को सुलझाने के लिए मोदी जी ने पिछले साल दोबारा प्रधानमंत्री बनते ही किसानों के लिए कुछ महत्वपूर्ण योजनाओं का ऐलान कर दिया था. जिससे किसानों को राहत तो मिल ही रही है, साथ में उनकी आय भी डबल हो रही है. किसानों के लिए मोदी जी द्वारा शुरू की गई योजनाओं में से एक ‘प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना’ है. इस योजना के तहत किसानों का भविष्य बेहतर करने का प्रावधान है. जी हाँ किसानों को उनके वृद्धावस्था में मदद करने के लिए इस पेंशन योजना को शुरू किया गया है. इस लेख आपको इस योजना से संबंधित सभी जानकारी मिल जाएगी.  

pm-kisan-mandhan-pension-pmkmy-apply-online

Contents

पीएम किसान मानधन योजना के लांच की जानकारी

योजना का नामप्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना
घोषणाकृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर
लाभार्थीभारत के किसान
लाभकिसानों को पेंशन
संबंधित विभाग / मंत्रालयकृषि एवं कल्याण मंत्रालय
पेंशन की राशि3000 रूपये
पोर्टलpmkmy.gov.in
टोल फ्री नंबर180030003468

एक राष्ट्र एवं राशन कार्ड योजना के तहत अपने राशन कार्ड को ऐसे पोर्टेबल करायें.

पीएम किसान मानधन योजना की विशेषताएं

  • योजना का उद्देश्य :- इस योजना को शुरू करके मोदी सरकार भारत के कृषि करने वाले ऐसे किसानों को उनकी वृद्धावस्था में मदद करना चाहती हैं, जो छोटे एवं सीमांत श्रेणी में आते हैं.
  • पेंशन लाभ :- इस योजना में वृद्धावस्था में वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है इसलिए इसे पेंशन योजना कहा जा रहा है. पेंशन के रूप में लाभार्थी को मासिक आधार पर 3000 रूपये प्रदान किये जायेंगे.
  • पैसों का भुगतान :- इस योजना में लाभार्थी को मिलने वाली राशि का भुगतान सरकार द्वारा सीधे बैंक खाते में जमा किया जायेगा.
  • किसानों द्वारा दिया जाने वाला प्रीमियम :- इस पेंशन योजना में लाभार्थी किसानों को कुछ प्रीमियम का भुगतान करना होगा. यह प्रीमियम उनकी उम्र के अनुसार अलग – अलग हो सकता है. जैसे कि जो किसान इस योजना में 18 साल की उम्र में जुड़ जाता है, तो उन्हें प्रीमियम के रूप में प्रतिमाह 55 रूपये जमा करने होंगे और इसी तरह से यदि किसान 40 साल की उम्र में जुड़ता है तो उसे प्रीमियम राशि के रूप में 200 रूपये का भुगतान करना होगा. इस योजना किसानों द्वारा दिया जाने वाला यह योगदान आधा है बाकी का केंद्र सरकार द्वारा भरा जायेगा.
  • खाते को सक्रिय रखने के लिए :- इस योजना के साथ जुड़ने के बाद किसानों को अपने खाते को लगभग 5 साल तक तो एक्टिव रखना ही होगा. इसके बाद यदि वे चाहते हैं कि उन्हें यह योगदान देना बैंक करना है तो वे बंद कर सकते हैं और अपने द्वारा जमा किये गए पूरे पैसे निकाल सकते हैं.
  • पेंशनभोगी की मृत्यु हो जाने की स्थिति में :- यदि किसी पेंशन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके द्वारा जिस व्यक्ति को नामांकित किया गया है वह पैसे निकालने के लिए सक्षम होता है. और यदि नामांकित व्यक्ति पति या पत्नी है तो कुल पेंशन राशि का 50 % भुगतान उन्हें दिया जायेगा. और यह एक परिवारिक पेंशन होगी.
  • कुल लाभार्थी :- इस योजना के लांच के साथ ही यह लक्ष्य निर्धारित किया है कि सालभर में लगभग 10 करोड़ लोगों का रजिस्ट्रेशन ही किया जाये.
  • कुल बजट :- इस योजना के लिए वित्त मंत्रालय की ओर से 900 करोड़ का बजट पास किया गया है जोकि साल 2019 से 2020 तक के लिए है.

कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत किसान किन यंत्रों के लिए अनुदान प्राप्त कर सकते हैं जानें.

पीएम किसान मानधन योजना में पात्रता

  • भारतीय नागरिक :- इस योजना के लाभार्थी किसान भारत के मूल रूप से निवासी होने आवश्यक है.
  • छोटे एवं सीमांत किसान :- इस योजना में विशेष रूप से उन किसानों को लाभा प्रदान किया जा रहा है जोकि छोटे एवं सीमांत श्रेणी में आते हैं.
  • गरीबी रेखा से नीचे आने वाले :- ऐसे किसान जोकि गरीबी रेखा से नीचे नहीं आते हैं उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.
  • आयु पात्रता :- इस योजना में पेंशन की राशि तो लाभार्थी को 60 साल की उम्र पार करने के बाद मिलेगी लेकिन इससे पहले किसान जिस उम्र में इस योजना में शामिल हो रहे हैं उस उम्र में जितना प्रीमियम निर्धारित किया गया वह लाभार्थी को देना होगा.
  • अधिकतम जमीन :- इस योजना में यह भी पात्रता निर्धारित की गई है कि किसान के पास अधिकतम 2 हेक्टेयर या 5 एकड़ जमीन से ज्यादा नहीं होना चाहिए.

पीएम किसान मानधन योजना में आवश्यक दस्तावेज

  • स्थानीय प्रमाण पत्र :- यह योजना चुकी सरकार ने कानूनी रूप से भारत के निवासियों के लिए शुरू की है इसलिए उन्हें अपना स्थानीय प्रमाण पत्र दिखाना अनिवार्य होगा.
  • बीपीएल प्रमाण पत्र :- केंद्र सरकार द्वारा पिछले साल शुरू की गई किसान मानधन पेंशन योजना में आवेदन के दौरान लाभार्थियों को अपना बीपीएल श्रेणी का प्रमाण पत्र सबमिट करना आवश्यक है. 
  • आयु प्रमाण पत्र :- लाभार्थी किसान की वर्तमान में क्या उम्र हैं और वह कितना प्रीमियम दे रहा है इसकी जांच लाभार्थी के आयु प्रमाण पत्र से होगी.
  • किसानों का रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र :- किसान अधिकारिक तौर पर एक कृषि करने वाला किसान है यह बताने के लिए कृषि रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता पड़ सकती है.
  • आधार कार्ड :- इस योजना के लाभार्थी किसान के पास उनका यूनिक नंबर वाला आधार कार्ड होना आवश्यक है. यह एक प्रमुख दस्तावेजों में से एक है.
  • जमीन के पेपर :- आवेदकों को अपनी जमीनी पात्रता साबित करने के लिए पाने जमीन के पेपर शो करने होंगे.
  • बैंक खाते की जानकारी :- इस योजना का लाभ सीधे बैंक खाते में मिल सके, इसके लिए लाभार्थी अपने बैंक खाते से जुडी पासबुक की फोटोकॉपी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर योजना के तहत किसान ट्रेक्टर के लिए सरकार से सब्सिडी ले सकते हैं, ऐसे करें आवेदन.

पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में आवेदन कैसे करें

ऑफलाइन आवेदन :-

  • यदि लाभार्थी ऑफलाइन माध्यम से पेंशन योजना का लाभ चाहते हैं, तो इसके लिए उसे अपने क्षेत्र के लोक सेवा केंद्र में जाना होगा. और वहां जाकर खुद को रजिस्टर्ड करना होगा. यदि वे चाहें तो नोडल ऑफिस भी जानकर अपना आवेदन दे सकते हैं.
  • लोक सेवा केंद्र पहुँचने के बाद वहां अधिकारीयों से संपर्क करके वे इस योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त करके उसे भर सकते हैं. लेकिन उससे पहले लाभार्थियों को अपने सभी दस्तावेजों की कॉपियों को उसी कर्यालय में जमा करना होगा. जिसकी संबंधित अधिकारीयों द्वारा जाँच की जाएगी.
  • जब सभी दस्तावेज सही होते हैं तो इसके बाद संबंधित अधिकारी लाभार्थी का नाम इस योजना में रजिस्टर करने के लिए डिजिटलीकृत आवेदन फॉर्म स्वयं ही भरते हैं. और इसे जमा कर देते हैं. इससे लाभार्थी का रजिस्ट्रेशन पूरा हो जनता है.
  • इस पूरी प्रक्रिया में लाभार्थी से वैसे तो कोई शुल्क नहीं लगता लेकिन सीएससी सेंटर वाले आपका फॉर्म भरने के बदले में आपसे लगभग 30 रूपये ले सकते हैं.
  • इस योजना में आवेदन होने के बाद एक यूनिक पेंशन आईडी नंबर के साथ एक पेंशन कार्ड लाभार्थी को दिया जाता है.

ऑनलाइन आवेदन :-

  • केंद्र सरकार ने किसान मानधन योजना में एक ऑनलाइन आवेदन करने का भी विकल्प दिया है जिसके लिए अधिकारिक वेबसाइट है.
  • इस पर क्लिक करते ही आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट खुल जाएगी. जहां सीधे हाथ में नीचे एक बटन दिखाई देगी जिसमें लिखा होगा ‘क्लिक हियर टू अप्लाई नाउ’, उस पर क्लिक कर दें.
  • इसके बाद आपके सामने खुद से रजिस्टर करने या फिर लोक सेवा केंद्र के साथ जुड़कर आवेदन करने जैसे 2 विकल्प शो होंगे, जिसे आप अपने अनुसार चुन सकते हैं.
  • यदि आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप खुद से रजिस्टर करने का ही विकल्प चुनें. इसके बाद आपको अपने मोबाइल नंबर यहाँ पर डालकर उसे ओटीपी के माध्यम से सत्यापित करना होगा. इससाथ ही कुछ अन्य जानकारी भी आपसे मांगी जाएगी, जिसे आपको भर देना है.
  • जब आपका ओटीपी सत्यापित हो जायेगा इसके बाद आप पोर्टल के डैशबोर्ड में पहुँच जायेंगे. जहाँ ऊपर की ओर एनरोलमेंट की लिंक दिखेगी उसमें से आप इस योजना का चयन कर उस पर क्लिक कर दें.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर योजना का फॉर्म खुलेगा आपको उसे भरना होगा और साथ ही दस्तावेज जो भी मांगे जायेंगे उसे अपलोड करना होगा. और फिर फॉर्म सबमिट करने के बाद रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया ख़त्म हो जाएगी. आपकी स्क्रीन पर एक सब्सक्राइबर आईडी शो होगी उसे आप सेव करके अपने पास रख लें.

पीएम किसान रेल सेवा योजना में किसान अपने सामान को देश के किसी भी कोने में अब बिना किसी परेशानी के पहुंचा सकते हैं.

पीएम किसान मानधन योजना की सूची में अपना नाम देखें

  • जब आप इस योजना की लाभार्थी सूची में अपना नाम देखना चाहते हैं तो इसके लिए आप अधिकारिक वेबसाइट में जाकर इसके डैशबोर्ड में जायें और योजना का नाम सेलेक्ट करें.
  • इसके बाद अगले पेज में आपको अपनी सब्सक्राइबर आईडी डालनी होगी. और सर्च आइकॉन में क्लिक करना होगा. यदि आपका नाम सूची में शामिल होगा तो वह वहां पर शो हो जायेगा. जिस पर क्लिक करके आप जानकारी देख सकते हैं.
  • यदि सूची में नाम शामिल नहीं हुआ होगा, तो पेंडिंग सूची भी वहां दी हुई होगी, उसमें आपका नाम जरुर होगा. इसे भी आप चेक कर सकते हैं.

प्रवासी मजदूर भारत सरकार की ओर से मनचाहा रोजगार चाहते हैं तो ASEEM ऑनलाइन पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करायें, ये हैं प्रक्रिया.

मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई इस पेंशन योजना का लाभ प्राप्त करके किसान अपने भविष्य को संवारने सकते हैं, ताकि उन्हें अपनी वृद्धावस्था में किसी परेशानी का सामना न करना पड़ें. यदि आप भी किसान है और इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं इसमें खुद को रजिस्टर करें.

FAQ

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना क्या है ?

Ans : यह केंद्र सरकार द्वारा किसानों को उनकी 60 साल की उम्र पार करने के बाद मासिक पेंशन प्रदान करने के लिए शुरू की गई योजना है.

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में मासिक पेंशन कितनी दी जाती है ?

Ans : 3000 रूपये.

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में किसानों के योगदान की रेंज कितनी है ?

Ans : न्यूनतम 55 रूपये जो 18 साल की उम्र से इस योजना के साथ जुड़ने पर देना होता है, और अधिकतम 200 रूपये जोकि 40 साल की उम्र में इस योजना के साथ जुड़ने पर देना होता है.

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में ऑनलाइन आवेदन करना संभव है ?

Ans : हां बिलकुल, इसके लिए ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया गया है.

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में देखरेख किसके द्वारा की जाएगी ?

Ans : भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा.

Q : पीएम किसान मानधन पेंशन योजना में आवेदन के दौरान कोई शुल्क देना होगा ?

Ans : यदि आप सीएससी सेंटर में जाकर आवेदन देते हैं तो आपको 30 रूपये का शुल्क देना होगा और यदि खुद से रजिस्टर करते हैं तो आपको कोई शुल्क नहीं देना होगा.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here