प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण न्यू लिस्ट 2020 | PM Awas Yojana Gramin (PMAY-G) in hindi

0
110

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण क्या हैं (PM Awas Yojana – Gramin (Rural) (PMAY-G) in Hindi) आवेदन कैसे करें, न्यू लिस्ट, नाम कैसे चेक करें, लाभार्थी सूची 2020, दस्तावेज़, पात्रता नियम, ऑनलाइन वेबसाइट, टोल फ्री नंबर (Eligibility, CSC, UPSC, Apply Online, Last Date, List)

हमारा देश एक ऐसा देश है जहाँ गरीबों की संख्या बहुत अधिक हैं. इन गरीबों के पास खाने के लिए रोटी, पहनने के लिए कपड़े एवं रहने के लिए एक छत भी नहीं है. वे अपना पेट पालने के लिए बहुत मेहनत करते हैं. लेकिन फिर भी प्राकृतिक आपदाओं के समय उन्हें ही परेशानी का सामना करना पड़ता है. खास कर ये लोग छोटे – छोटे में रहने वाले लोग होते हैं. किन्तु मोदी सरकार ने उनकी कुछ मुश्किलें कम करने के लिए ‘प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण’ शुरू की है, जिसके तहत गरीबी रेखा से नीचे आने वाले सभी वर्ग के लोगों को उनका पक्का घर बनाने के लिए वित्तीय मदद दी जा रही है. अब लाभार्थी सोच रहे होंगे कि यह लाभ किसे और कैसे मिलेगा, तो उनके सभी सवालों के जवाब इस लेख में दी गई जानकारी से मिल जायेंगे.  

Pradhan-Mantri-Awas-Yojana-Gramin-

Contents

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लांच की जानकारी

योजना का नामप्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण
लांच की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
शुरुआतनवम्बर, 2016 में
लाभार्थीग्रामीण क्षेत्र के निवासी
संबंधित विभाग / मंत्रालयग्रामीण विकास मंत्रालय
समय अंतराल3 साल

प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत लाभार्थी अपना बैंक में खाता इस तरह से खुलवा सकता है.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की विशेषताएं

  • योजना का लक्ष्य :- ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के लिए इस योजना को शुरू करने के पीछे केंद्र सरकार का मुख्य लक्ष्य है ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले कम से कम 1 करोड़ लोगों के लिए उनका पक्का घर बनाने में उनकी वित्तीय सहायता करना. और वो सिर्फ केवल 3 वर्ष में.
  • आर्थिक लाभ :- इस योजना में यह उल्लेख किया गया है कि जिन लोगों के घर मैदान क्षेत्र में स्थित हैं वहां लाभार्थियों को उनका घर बनाने के लिए 1 लाख 20 हजार रूपये की कुल राशि प्रदान की जाती है. इसके स्थान पर यदि ऐसे लोगों की बात करें जो पहाड़ी इलाकों में रहते हैं और वहीँ पर अपना घर बनवाना चाहते हैं उन्हें इसे योजना के अंतर्गत 1 लाख 30 हजार रूपये की राशि प्रदान की जाएगी.
  • राशि का भुगतान :- लाभार्थियों को अपना घर बनाने के लिए मिलने वाली राशि का भुगतान उनके बैंक खाते में करेगी, जोकि उनके आधार कार्ड से लिंक किया हुआ होना चाहिए. और साथ ही ये पैसे उनके बैंक खाते में 3 किस्तों में जमा किये जायेंगे.
  • जब आवेदन करने के बाद घर बनाने की मंजूरी लाभार्थी को मिल जाएगी तो उसके तुरंत बाद पहली क़िस्त मिलती है.
  • जब लाभार्थी के घर के नींव रख दी जाती हैं उसके बाद लाभार्थी को दूसरी क़िस्त दी जाती है.
  • तीसरी और आखिरी क़िस्त लाभार्थी को उस समय दी जाती है जब खिड़की एवं दरवाजे, लेंटर, छत, और घर का पूरा काम आदि की मैपिंग कर दी जाती हैं, तक प्रदान की जाती है.
  • अन्य सुविधा :- इस योजना में एक यह सुविधा दी जा रही है कि सरकार की ओर से लाभार्थियों को उनका पक्का शौचालय बनाने के लिए 12 हजार रूपये अलग से दिए जा रहे हैं.
  • घर का कुल क्षेत्र :- इस योजना में लोग जो घर बनवायेंगे वह केवल 25 वर्ग मीटर के अंदर के होंगे. इससे ज्यादा वालों को इसका लाभ नहीं मिलेगा. 
  • घर का निर्माण :- इस योजना में लाभार्थी का पक्का घर बनेगा जोकि प्राकृतिक आपदाओं के प्रतिकूल एवं आधुनिक तकनीक से युक्त बनाया जायेगा.
  • रोजगार :- इस योजना के अंतर्गत एक तरफ तो लाभार्थियों को उनका पक्का घर मिल रहा है और दूसरी ओर उन्हें कम से कम 90 से 95 दिनों का रोजगार भी मुहैया कराया जा रहा है. जिसमें वे अधिकतम 18 हजार रूपये तक की कमाई कर सकते हैं.
  • अन्य विकास योजनाओं का विलय :- इस योजना के अंदर प्रधानमंत्री जी कि अन्य योजनाओं जैसे शौचालय, स्वच्छ जल, बिजली, सफाई, गैस सिलिंडर की भी सुविधा दी जाएगी. इससे लाभार्थियों को इन योजनाओं का भी लाभ मिल सकेगा.

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी में कौन पात्र हैं एवं कैसे आवेदन कर सकते हैं जानें.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में पात्रता मापदंड

  • जनगणना 2011 :- इस योजना के लाभार्थी सन 2011 में हुई जनगणना के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र के निवासी होने चाहिए.
  • बेघर या कच्चे घर में रहने वाले :- ऐसे लोग जिनके पास खुद का कोई भी घर नहीं है या फिर वे कच्ची झोपड़ी में रहते हैं, इस योजना का लाभ उठाकर अपने लिए एक पक्का घर बनवा सकते हैं.
  • अन्य योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी :- ऐसे लोग जो पहले से ही सरकार द्वारा चलाई जा रही है हाउसिंग स्कीम के अंतर्गत लाभ प्राप्त कर रहे हैं. उन्हें इसका लाभ नहीं दिया जायेगा.  

आवश्यक दस्तावेज

  • आय प्रमाण पत्र :- इस योजना में लाभार्थी एवं उसके परिवार की कुल मिलाकर वार्षिक आय ज्यादा नहीं होनी चाहिए. आवेदन के दौरान इसका प्रमाण पत्र भी मंगा जायेगा.
  • जाति प्रमाण पत्र :- इस योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों के लिए है, जोकि निम्न स्तर की जाति से संबंध रखते हैं. इसलिए लाभार्थी को जाति प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी. 
  • बैंक खाते की जानकारी :- लाभार्थी के आधार से लिंक्ड बैंक खाते में वित्तीय सहायता राशि जमा की जाएगी इसकी जानकारी के लिए लाभार्थी को अपने बैंक खाते की पासबुक की कॉपी की आवश्यकता पड़ेगी.
  • आधार कार्ड या मनरेगा कार्ड :- व्यक्ति की पहचान के लिए उसके पास उनका आधार कार्ड या मनरेगा कार्ड होना आवश्यक है.

किसानों को सम्मान एवं वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना शुरू की है ऐसे उठा सकते हैं लाभ.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में आवेदन कैसे करें (How to apply for PM Awas Gramin)

इस योजना का लाभ उठाने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों को ऑफलाइन ही आवेदन करना होगा –

  • सबसे पहले इस योजना के तहत खुद को रजिस्टर करना होगा जिसके लिए लाभार्थियों को अपने नजदीकी लोक सेवा केंद्र या फिर ग्राम पंचायत में जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा.
  • इस फॉर्म को भरें और सभी दस्तावेजों की कॉपी को इसमें अटैच करें पर इसे वहीं पर जमा कर दें और अंत में रजिस्ट्रेशन आईडी नंबर भी प्राप्त कर लें.
  • इसके बाद सत्यापन किया जायेगा, यदि सब सही होता है तो योजना का आईडी और रिपोंस कोड प्रदान किया जायेगा. और फिर ग्राम पंचायत द्वारा लाभार्थियों का चयन किया जायेगा.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की चयन प्रक्रिया क्या है

ग्राम पंचायत पीएम आवास योजना ग्रामीण में लाभार्थियोंका चयन निम्न प्रकार से करती हैं –

  • वह परिवार जिसमें कोई भी युवा व्यक्ति न हो जिसकी उम्र 16 से 59 वर्ष की है.
  • इस योजना में महिलाओं को घर की मुखिया के रूप में प्राथमिकता दी जा रही है. लेकिन इसके लिए आवश्यक हैं उस महिला के परिवार में कोई भी 16 से 59 वर्ष का व्यक्ति न हो.
  • यदि कोई व्यक्ति 25 साल का है और ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है तो उसे भी इस योजना का लाभ दिया जायेगा.
  • ऐसे लोग जो मजदूरी करके अपना घर चलाते हैं, फिर चाहे वह किसी भी वर्ग का हो उसे भी इस योजना में शामिल किया जायेगा, बस जरुरी यही है कि लाभार्थी के पास कोई जमीन या संपत्ति नहीं होनी चाहिए.    

पीएम किसान रेल सेवा योजना के तहत किसानों के लिए एक विशेष ट्रेन शुरू की गई है, जिसका लाभ यहां से जान सकते हैं.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की सूची में अपना नाम कैसे देखें

ऑफलाइन माध्यम से :-

ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थियों को पीएम आवास योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी सूची में अपना नाम देखना है तो वे अपने क्षेत्र की ग्राम पंचायत में जाकर देख सकते हैं. आवेदन करने वाले सभी चयनित लाभार्थियों की सूची को वहां लग दिया जाता है.

ऑनलाइन माध्यम से :-

  • ऑनलाइन माध्यम से लाभार्थी अपना नाम चेक करना करना चाहते हैं तो सबसे पहले वे इस अधिकारिक वेबसाइट में जायें.
  • इसके बाद उन्हें लेटेस्ट न्यूज़ वाले सेक्शन में में लाभार्थी सूची में अपना नाम चेक करने के लिए लिंक शो होगी उस पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद सीधे हाथ तरफ आपको अपने राज्य, जिला, ब्लॉक आदि का चयन करके कैप्चा कोड भरकर सबमिट कर देना होगा.
  • इसके बाद उस क्षेत्र में आने वाले सभी लाभार्थियों का डाटा की लिस्ट शो हो जाएगी, जिसमें लाभार्थी अपना नाम चेक कर सकते हैं.   

तो इस तरह से ग्रामीण क्षेत्र के निवासी अपने घर को पक्का कराने का सरकार से लाभ प्राप्त कर सकते हैं, और प्राकृतिक आपदाओं जैसे समस्याओं से राहत प्राप्त कर सकते हैं. 

FAQ

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण क्या है ?

Ans : ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले गरीब लोगों को जिसके पास घर नहीं है या झोपड़ पट्टी में रहते हैं उन्हें पक्का घर बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए पीएम आवास योजना ग्रामीण को शुरू किया गया है.

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में लाभार्थियों को कितने रूपये की सहायता दी जाती है ?

Ans : मैदानी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को 1 लाख 20 हजार रूपये एवं पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों को 1 लाख 30 हजार रूपये दिए जाते हैं.

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में आवेदन कैसे करें ?

Ans : अपने पास के लोक सेवा केंद्र या फिर ग्राम पंचायत में जाकर कर सकते हैं.

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की अधिकारिक लिंक क्या है ?

Ans : अधिकारिक लिंक – pmayg.nic.in

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची में अपना नाम कैसे देखें ?

Ans : इस अधिकारिक लिंक पर जाकर, या अपने क्षेत्र के ग्राम पंचायत में जाकर.

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

Ans : 1800-11-6446

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में बजट किस तरह से निर्धारित किया गया है ?

Ans : मैदानी क्षेत्र में केंद्र एवं राज्य सरकार का योगदान क्रमशः 60 % एवं 40 % है जबकि पहाड़ी इलाकों या मुश्किल क्षेत्रों में केंद्र एवं राज्य सरकार का योगदान 90 % से 10 % है.

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत क्या लोन ले सकते हैं ?

Ans : हां

Q : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत कितना लोन मिल सकता है ?

Ans : अधिकतम 70 हजार तक का लोन लिया जा सकता है. 

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here