एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना 2020 | One Nation One Ration Card Scheme in Hindi

0
143

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना क्या है, देश, कैसे बनेगा कार्ड (वन नेशन वन राशन कार्ड योजना, मतलब पोर्टेबिलिटी, अप्लाई ऑनलाइन, जानकारी) (One Nation One Ration Card Yojana in hindi), Launch, Ration Card Portability, State list, Implementation Date)

हमारे देश में यदि किसी व्यक्ति को राशन लेना होता हैं तो उसे अपना राशन कार्ड दिखाना होता है. और ये राशन कार्ड विभिन्न श्रेणियों में लोगों को बांटे जाते हैं. आपको बता दें कि अब तक राशन लेने के लिए लोगों को अपने क्षेत्र में मौजूद किसी एक पीडीएस दुकान में ही जाना पड़ता था. किन्तु अब ऐसा नहीं है. अब यह प्रक्रिया पूरी तरह से बदल गई है. अब देश का कोई भी नागरिक जिस भी राज्य के जिस भी क्षेत्र में हो, उसके आसपास जो भी राशन की दूकान हैं वह वहां से राशन खरीदने में समर्थ हो जाता है. इसके लिए पिछले साल केंद्र सरकार ने ‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना’ का शुभारंभ किया है. आइये इस योजना के बारे में विस्तार से इस लेख में जानते है.

one Nation One Ration Card Scheme

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के लांच की जानकारी

योजना का नामएक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना
लांच की गईसन 2019 में
लाभार्थीदेश का प्रत्येक राशन कार्ड धारक
लागू हैदेश के सभी राज्यों में
संबंधित विभाग या मंत्रालयकेन्द्रीय खाद्य, सार्वजानिक वितरण एवं उपभोक्ता मंत्रालय
पूरे देश में लागू हैजून, 2020 से
टोल फ्री नंबर14445

नरेगा जॉब कार्ड सूची में अपना नाम ऐसे चेक करें.

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना की विशेषताएं

  • गरीबों एवं प्रवासी मजदूरों को सहायता :- ऐसे लोग जो कि अपने गांव को छोड़कर शहर में जाकर पैसे कमा रहे हैं. उन्हें अब राशन लेने के लिए गांव नहीं आना पड़ेगा वे शहर में ही किसी भी राशन की दूकान से राशन खरीद सकते हैं.
  • देश के आम नागरिक को सहायता :- देश का आम नागरिक उचित मूल्य में अब राशन की किसी भी दूकान से राशन खरीदने में सक्षम है.
  • भ्रष्टाचार में कमी :- एक ही दूकान से राशन लेने में दूकानदार कई बार ज्यादा दाम में राशन बेचने लगते हैं. अब ऐसा नहीं हो सकेगा. उचित मूल्य की राशन की दूकान से लोगों द्वारा राशन लेने से दुकानदारों द्वारा किया जाने वाला भ्रष्टाचार कम होगा.
  • एक राशन कार्ड :- राशन की किसी भी दूकान से राशन ख़रीदने के लिए आप अपने वहीँ राशन कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं जो आपके क्षेत्र की राशन की दूकान से राशन खरीदने के लिए उपयोग होता है. अतः वन नेशन वन राशन कार्ड योजना में लाभार्थी को कोई दूसरा र्सहं कार्ड नहीं प्रदान किया जायेगा.
  • राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी :- भले ही एक ही राशन कार्ड का उपयोग किसी भी राशन की दूकान में किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए आवश्यक होगा कि लोग अपने राशन कार्ड को पोर्टेबल करायें. इसके साथ ही राशन की पीडीएस दुकानों में पीओएस लगना जरुरी हैं जिसके माध्यम से लोगों के राशन कार्ड पोर्टेबल किये जायेंगे. 
  • राशन की उपलब्धता :- लोग अब किसी भी क्षेत्र की राशन की दूकान से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत अनाज, गेंहू एवं अन्य राशन की चीजें खरीद सकते हैं.
  • पायलट प्रोजेक्ट :- इस योजना को पिछले साल केवल 4 राज्यों में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया, इसके बाद धीरे – धीरे इसमें 14 राज्यों को ओर्कोवर किया गया और फिर इस साल यानि 2020 के जून महीने से यह लगभग पूरे राष्ट्र में लागू हो चुकी है. जिन राज्यों में यह अब तक लागू नहीं हुई हैं वह अगले साल मार्च तक लागू हो जाएगी.
  • कुल लाभार्थी :– इस योजना के माध्यम से सन 2021 के मार्च महीने तक 81 करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ मिल सकेगा. अर्थात इस योजना के साथ जुड़कर इतने लोग फायदा उठा पायेंगे.

राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी कैसे करायें

इस योजना के तहत राशन कार्ड को पोर्टेबल कराने के लिए लोगों को अपने राशन को किसी भी उचित मूल्य वाली राशन की दूकान में लेकर जाना होगा. वहां पर एक इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ सेल मशीन लगी हुई होगी, जिसके माध्यम से लोग अपना राशन कार्ड पोर्टेबल करा सकते हैं. और जिस लॉग इन के पास राशन कार्ड नहीं उनके लिए नये फॉर्मेट के साथ राशन कार्ड तैयार किये जा रहे हैं उसका उपयोग करके भी लोग राशन प्राप्त कर सकते हैं. राशन कार्ड पोर्टेबल कराने से पहले एक चीज का ध्यान रखना होगा कि राशन कार्ड आधार कार्ड से लिंक किया हुआ होना चाहिए.

ASEEM ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से प्रवासी मजदूर ऐसे कराएँ रोजगार के लिए पंजीकरण.

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना में नये राशन कार्ड का फॉर्मेट

केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी से संबंधित एक फॉर्मेट किया गया है. इस फॉर्मेट के तहत नये राशन कार्ड जारी किये जा रहे हैं. जिसकी विशेषताएं निम्न प्रकार से है –

  • नये राशन कार्ड में उतनी ही जरूरी जानकारी शामिल की जाएगी, जितनी आवश्यकता राज्य सरकार को होगी.
  • ये नये राशन कार्ड हमारी मातृ भाषा के साथ ही अंग्रेजी में भी होंगे. हालांकि कुछ राशन कार्ड स्थानीय भाषा में भी हो सकते हैं, जोकि अलग – लग राज्यों की अलग होती सकती है.
  • इस योजना के तहत जारी किये जाने वाले नये राशन कार्ड में 10 अंको का एक नंबर दिया हुआ होगा जोकि प्रत्येक राशन कार्ड धारक के लिए एक यूनिक नंबर होगा. इस नंबर के शुरुआती 2 अंक राज्य के कोड को प्रदर्शित करेंगे और बाकी का नम्बर राशन कार्ड धारक का यूनिक नंबर होगा.

इस तरह से इस योजना के तहत अब देश का कोई भी नागरिक राशन लेने से संबंधित किसी भी परेशानी से छुटकारा पा सकता है.

FAQ

Q : एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना क्या है ?

Ans : यह पूरे देश में एक ही राशन कार्ड का इस्तेमाल करके किसी भी उचित मूल्य वाली राशन की दूकान से राशन खरीदने में लोगों को सक्षम बनाती है.

Q : एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के तहत किसे लाभ मिलेगा ?

Ans : इस योजना का लाभ विशेष रूप से देश किसी भी राज्यों में रह रहे प्रवासी मजदूरों एवं अपने क्षेत्र से अन्य क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को मिलेगा.

Q : एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है ?

Ans : इसमें आवेदन नहीं करना हैं आपको केवल अपने राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने के बाद इसे पोर्टेबल कराना है.

Q : राशन कार्ड को पोर्टेबल कैसे करायें ?

Ans : आप किसी भी पीडीएस राशन की दूकान में जाकर अपने राशन कार्ड को पोर्टेबल कराकर लाभ प्राप्त कर सकते हैं. राशन की दूकान में इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ सेल लगा हुआ होगा जिसके माध्यम से यह किया जायेगा.

Q : एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना का लाभ कितने लोगों को मिलेगा ?

Ans : यह लगभग पूरे दश में लागू हो चुकी है इससे करोब 81 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here