नरेगा जॉब कार्ड सूची | Nrega Job Card List 2020 MGNREGA लिस्ट,देखें डाउनलोड करें

0
77

नरेगा/मनरेगा योजना क्या है 2020 (जॉब कार्ड नयी सूची, चेक ऑनलाइन स्टेटस लिस्ट, आवेदन, मजदूरी रेट) (Nrega Job Card List,MGNREGA, full form, work list, State, district wise list, online check name, registration)

भारत देश में आजादी के बाद भी गरीबों की स्थति में कोई ज्यादा सुधार नहीं आया, कई सरकारें आई जिन्होंने गरीबों के कल्याण के लिए मुफ्त या आर्थिक सहायता  जैसी योजनायें चलाई, जो कुछ समय तक गरीबों को लाभ देती है, लेकिन खुद पैसे कमाकर खाने का सुख नहीं देती, क्यूंकि उनके पास कोई रोजगार ही नहीं होता. साल 2005 में सरकार ने गरीबों को रोजगार की पूरी गारंटी देने के उद्देश्य से राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम पारित किया. जिसे नरेगा कहा गया. बाद में इसे महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम कहा गया जो मनरेगा कहलाता है. योजना के तहत गरीब, मजदूर, श्रमिक को रोजगार की पूरी गारंटी दी जाती है, ताकि वे अपने पैरों पर खड़े होकर पालन पोषण कर सकें. आज हम अपने इस आर्टिकल में नरेगा से जुडी हर बात आपको विस्तार से बताने वाले है, जैसे कब कार्ड कहाँ बनेगा, आवेदन प्रक्रिया, कितना पैसा मिलेगा, कब मिलेगा, लिस्ट में नाम कहाँ से चेक होगा, मजदूरी कितनी होगी आदि. हमारे इस आर्टिकल को ध्यान से अंत तक पढ़े, ताकि मनरेगा से जुडी हर छोटी बड़ी बात को आप अच्छे से समझ कर उसका फायदा उठा सकें.

nrega-job-card-list-mgnrega check online name
योजना का नामराष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम
अन्य नामनरेगा, मनरेगा
पारित करने की तारीखअगस्त, 2005 में
पारित किया गयातत्कालिक केंद्र सरकार द्वारा
संबंधित विभाग / मंत्रालयग्रामीण विकास मंत्रालय
लाभार्थीग्रामीण क्षेत्र के नागरिक

मनरेगा योजना का उद्देश्य –

भारत देश छोटे-छोटे गाँव से मिलकर बना है, जिसमें अधिकांश जनता गाँव में ही निवास करती है. आज से 15 साल पहले की बात करें तो देश में गाँव की स्थति बहुत ख़राब थी, लोगों के पास गाँव में काम ही नहीं होता था, जिससे वो अपने परिवार का भरण पोषण भी नहीं कर पाते थे. ऐसे में ग्रीन लोगो को अपना घर द्वार छोड़ शहरी क्षेत्र में पलायन करना होगा था. सरकार के लिए यह चिंता का विषय बन गया, क्यूंकि अगर हर कोई शहर चला जायेगा तो गाँव का विकास कैसे होगा. सरकार ने इसी उद्देश्य से ग्राम क्षेत्र में मनरेगा योजना की शुरुवात की.

कृषि यन्त्र अनुदान योजना : आधी कीमत पर पायें कृषि उपकरण, सरकार देगी पैसे

मनरेगा योजना क्या है –

साल 2005 में गाँव के विकास और ग्रामीण क्षेत्र में रहने वालों को कमाई के लिए रोजगार देने के लिए योजना बनाई गई जिसे मनरेगा या नरेगा योजना कहते है. योजना को मुख्य रूप से ग्राम क्षेत्र को ध्यान में रखकर बनाया गया. योजना का नाम नरेगा था, जिसे 2009 में बदलकर मनरेगा कर दिया गया.

नरेगा के अंतर्गत कार्य (NREGA Job Card Work)

मनरेगा योजना के अंतर्गत मजदूरों को जो कार्य दिए जाते है वो इस प्रकार है –

  • जल संरक्षण
  • सूखे की रोकथाम के अंतर्गत वृक्षारोपण
  • बाढ़ नियंत्रण
  • भूमि विकास
  • विभिन्न तरह के आवास निर्माण
  • लघु सिंचाई
  • बागवानी
  • ग्रामीण सम्पर्क मार्ग निर्माण
  • कोई भी ऐसा कार्य जिसे केन्द्र सरकार राज्य सरकारों से सलाह लेकर अधिसूचित करती है
  • गौशाला निर्माण कार्य
  • आवासीय निर्माण कार्य
  • मार्ग निर्माण कार्य
  • सिंचाई कार्य

नरेगा जॉब कार्ड के फायदे (NREGA Job Card benefit)

  • मनरेगा के अंतर्गत सरकार सभी रजिस्टर लोगों को एक साल में कम से कम 100 दिन का रोजगार अवश्य दिया जायेगा. जिससे वे बेरोजगार न रहे और उनको पैसा मिलता रहे.
  • इस जॉब कार्ड से गाँव में रहकर ही लोग काम कर सकेंगें, उन्हें अपना घर, परिवार छोड़कर दुसरे जगह जाने की जरुरत नहीं होगी.
  • अभी हाल में छत्तीसगढ़ राज्य में मनरेगा योजना के तहत रोजगार को 100 दिन स बढ़ाकर 150 दिन कर दिया गया है. अतिरिक्त 50 दिन के कार्य की मजदूरी राज्य सरकार वहां करेगी. फिलहाल अभी तो यह रोजगार दिन में बढ़ोत्तरी सिर्फ छत्तीसगढ़ में हुई है, उम्मीद करते है कि आने वाले समय में सभी राज्यों में ये काम शुरू हो जायेगा.
  • योजना के अंतर्गत अगर कोई आवेदक आवेदन करता है तो उसे 15 दिनों के अंतर्गत रोजगार मिलेगा. अगर किसी कारणवश उसे रोजगार नहीं मिल पाता है तो सरकार 15 दिन बाद से रोजगार न मिलने तक उस व्यक्ति को रोजगार भत्ता देगी.
  • पहले बेरोजगारी भत्ता के रूप में 30 दिन का ¼ हिस्सा मिलता है, अगर 30 बाद तक भी रोजगार नहीं मिलता है तो उसे मजदूरी का आधा हिस्सा मिलने लगेगा.
  • मनरेगा योजना के अंतर्गत सरकार प्रत्येक मजदूर को प्रतिदिन 192 रूपए दिया करती थी, लेकिन अब साल 2020 में इस मजदूरी को बढ़ाकर 202 रूपए कर दिया गया है. मतलब एक मजदूर एक साल में मनरेगा से 20000 रूपए तक कमा सकता है.

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना: सरकार से 50 % तक का अनुदान पाकर खरीदें अपना खुद का ट्रेक्टर 

मनरेगा जॉब कार्ड –

  • मनरेगा योजना में लाभार्थी को रजिस्ट्रेशन के बाद एक जॉब कार्ड दिया जाता है, यह जॉब कार्ड अधिकारी द्वारा दिया जाता है. जिसमें उनके काम की सभी जानकारी होती है.
  • हर मजदूर को कार्यस्थल में यह कार्ड ले जाना अनिवार्य होता है.
  • मनरेगा जॉब कार्ड हर गरीब मजदूर के लिए बहुत फायदेमंद है, इसमें रोजगार के साथ-साथ अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ भी मिलता है.

नरेगा जॉब कार्ड की विशेषताएं (NREGA Job Card Features)

  • मनरेगा जॉब कार्ड योजना का सरकार ने अलग से एक पोर्टल तैयार किया है, जहाँ सभी जानकारी उपलब्ध है.
  • मनरेगा पोर्टल में आप राज्य और जिले के अनुसार अपना नाम सूचि में चेक कर सकते है.
  • मनरेगा पोर्टल में मजदूर जॉब कार्ड नंबर द्वारा अपनी पूरी मजदूरी चेक कर सकता है, कितना पैसा उसे मिल चूका है, कितना बकाया है, कितने काम किया है, कितना बचा है. सबका ब्यौरा पोर्टल में होता है.
  • मनरेगा योजना में लाभार्थी को मजदूरी कैश के रूप में नहीं मिलती है, बल्कि उसे पोस्ट ऑफिस अकाउंट या बैंक अकाउंट में सरकार मजदूरी भेजती है.
  • किसी विशेष आग्रह पर यह पैसा कैश में भी मिल सकता है.
  • अगर लाभार्थी ऑनलाइन सूची नहीं देख सकता है तो वो ऑफलाइन मनरेगा कार्यलय में जाकर जानकारी चेक कर सकता है.
  • योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को अपने क्षेत्र के 50 किलोमीटर के अंदर ही कार्य दिया जायेगा. ताकि उन्हें अपने घर से अलग न रहना पड़े.

नरेगा जॉब कार्ड सूची –

सरकारी अधिकारीयों द्वारा सभी मजदूरों की जॉब कार्ड के अनुसार सूची तैयार की जाती है, जिनका जिस क्रम में सूचि में नाम होता है, उसे वैसे ही काम मिलता है. लाभार्थी को जरुरी है कि वो अपना नाम लिस्ट में ऑनलाइन चेक करे.

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी लिस्ट : सरकार दे रही है पक्का घर बनाने के लिए सब्सिडी, आप भी उठायें लाभ

नरेगा जॉब कार्ड की सूची में नाम चेक करने की प्रक्रिया (How Check Name in NREGA Job Card List)

  • लाभार्थी को सबसे पहले मनरेगा पोर्टल में जाना होगा. यहाँ आपको जॉब कार्ड लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • यहाँ आपको देश के सभी राज्यों के नाम दिखाई देंगें, आप अपने राज्य के नाम पर क्लिक करें.
  • फिर आपको अपने जिला, ब्लाक, ग्राम, वित्तीय वर्ष का चयन करना होगा, इसके बाद सबमिट कर दें.
  • यहाँ आपके सामने पूरी लिस्ट खुल जाएगी, जिसमें आप अपना चेक कर सकते है.
  • अगर आपका नाम सूची में नहीं है तोइसका मतलब आपका फॉर्म अधिकारीयों द्वारा एक्सेप्ट नहीं हुआ है. आपको फिर से जॉब कार्ड के लिए आवेदन कर या उनसे संपर्क करके बात करनी होगी.

मनरेगा जॉब कार्ड के लाभार्थी कौन है –

  • देश का भारतीय नागरिक योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकता है.
  • जिनके पास भी राशनकार्ड है, वो इसके लिए योग्य है.\
  • जो गरीब है, जिनके पास गरीबी रेखा का कार्ड है, वो इस योजना का लाभ के लिए आवेदन कर सकता है.

मनरेगा मजदूरी रेट राज्य लिस्ट –

देश में मनरेगा के तहत हर राज्य में अलग अलग मजदूरी है, मतलब आप जिस राज्य के है, जहाँ काम करते है उसी के अनुसार आपको मजदूरी मिलेगी, नीचे हम आपको समस्त राज्य की मजदूरी लिस्ट बता रहे है –

राज्य / संघ राज्य क्षेत्र का नामप्रतिदिन मजदूरी की दर रुपए में
आंध्र प्रदेश237 रुपए
अरुणाचल प्रदेश205 रुपए
असम213 रुपए
बिहार194 रुपए
छत्तीसगढ़190 रुपए
गोवा280 रुपए
गुजरात224 रुपए
हरियाणा309 रुपए
हिमाचल प्रदेशगैर अनुसूचित क्षेत्र – 198 रुपए

अनुसूचित जनजातीय क्षेत्र – 248 रुपए
जम्मू और कश्मीर204 रुपए
लद्दाख204 रुपए
झारखंड194 रुपए
कर्नाटक275 रुपए
केरल291 रुपए
मध्य प्रदेश190 रुपए
महाराष्ट्र238 रुपए
मणिपुर238 रुपए
मेघालय203 रुपए
मिजोरम225 रुपए
नागालैंड205 रुपए
उड़ीसा207 रुपए
पंजाब263 रुपए
राजस्थान220 रुपए
सिक्किम  205 रुपए
  308 रुपए
तमिलनाडु256 रुपए
तेलंगाना237 रुपए
त्रिपुरा205 रुपए
उत्तर प्रदेश201 रुपए
उत्तराखंड201 रुपए
पश्चिम बंगाल204 रुपए
अंडमान और निकोबारअंडमान जिला – 267 रुपए  
दादरा और नगर हवेली258 रुपए
दमन और दीप227 रुपए
लक्ष्यदीप266 रुपए
पांडुचेरी256 रुपए

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना : जल्द से जल्द आवेदन कर पायें 6000 रूपए

FAQ –

Q: NREGA और MGNREGA में क्या अंतर् है?

Ans: दोनों एक ही है, पहले इस योजना का नाम नरेगा जिसे 2009 में बदलकर मनरेगा कर दिया गया.

Q: नरेगा योजना क्या है ?

Ans: भारत सरकार द्वारा गरीबों को रोजगार देने, ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए योजना शुरू की गई है.

Q: मनरेगा का पेमेंट कैसे देखें?

Ans: मनरेगा पोर्टल में MIS रिपोर्ट पर क्लिक करके पेमेंट चेक कर सकते है.

Q: मनरेगा वाला पैसा कब आएगा?

Ans: सरकार द्वारा हर तिमाही में पैसा सीधे लाभार्थी के अकाउंट में ट्रान्सफर किया जाता है.

Q: मजदूर के खाते में कितना पैसा आएगा?

Ans: काम के अनुसार मजदूरी काउंट होती है. प्रत्येक राज्य में अलग-अलग मजदूरी है, उसके अनुसार मजदूरी सरकार देती है.

Q: नरेगा जॉब कार्ड को ऑनलाइन कैसे चेक कर सकते है?

Ans: आप ऑनलाइन चेक कर सकते है.

Other links –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here