निपुण भारत मिशन 2021, योजना, आवेदन [NIPUN Bharat Mission], Full Form

0

निपुण भारत मिशन 2021, योजना, फुल फॉर्म, नेशनल इनीशिएटिव फॉर प्रोफिसिएंसी इन रीडिंग विद अंडस्टैंडिंग एंड न्यूमरैसी, एप्प, अधिकारिक लिंक, आवेदन, हेल्पलाइन नंबर, पात्रता [NIPUN Bharat Yojana in Hindi] (Mission, Programme, Initiatives, Eligibility, Full Form, Official Link, Helpline Number)

हमारे देश शिक्षा का बहुत अधिक महत्व है, बच्चे पैदा होते ही उन्हें शिक्षा दी जानी शुरू कर दी जाती है. ताकि उनकी नींव अच्छी हो सके. इसी के चलते हमारे देश में केन्द्रीय शिक्षा मंत्री माननीय रमेश पोखरियाल ने एक मिशन की शुरुआत करने का निर्णय लिया है. और इस मिशन का नाम है निपुण भारत मिशन. इस मिशन के अंतर्गत प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों को पढ़ाई के साथ ही समझने एवं संख्यात्मक ज्ञान प्रदान किया जायेगा. आइये जानते हैं यह मिशन क्या है और किस से इसे संचालित किया जायेगा.

NIPUN Bharat mission in Hindi

निपुण भारत मिशन 2021

मिशन का नामनिपुण भारत मिशन
लांच तारीख5 जुलाई
किसके द्वारा की गई शुरुशिक्षा मंत्री द्वारा
उद्देश्यशिक्षा में एक नई पहल करना
केंद्रीय शिक्षा मंत्रीरमेश पोखरियाल
लाभार्थीदेश के प्राइमरी स्कूल के बच्चे
अधिकारिक वेबसाइटजल्द ही
टोल फ्री नंबरजल्द ही

निपुण भारत मिशन फुल फॉर्म (NIPUN Bharat Mission Full Form)

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने हालही में निपुण भारत मिशन की शुरुआत की है जिसका पूरा नाम यानि फुल फॉर्म नेशनल इनीशिएटिव फॉर प्रोफिसिएंसी इन रीडिंग विद अंडस्टैंडिंग एंड न्यूमरैसी है।

निपुण भारत मिशन क्या है

जो जानकारी शिक्षा मंत्री द्वारा दी गई उसके अनुसार,  यह मिशन शिक्षा की ओर शुरू की गई एक नई पहल है. आपको बता दें कि ये प्रोग्राम नेशनल मिशन फाउंडेशन लिटरेसी का हिस्सा है। इसके अंतर्गत बच्चों को शिक्षा की ओर अग्रसर करते हुए उन्हें शिक्षा प्राप्त करने का आसान तरीका प्रदान किया जा रहा है. ताकि उनकी नींव पक्की को सके. इस मिशन से संबंधित दिशानिर्देश शिक्षा मंत्री ने एक वीडियो के जरिए लॉन्च किए। जब इस योजना की लॉन्चिंग हुई तो उस समय राज्यों के केंद्र शासित प्रदेश के स्कूल विभाग के अधिकारी, विभिन्न शिक्षा संस्थानों के प्रमुख, वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

निपुण भारत मिशन उद्देश्य

जिसका उद्देश्य है बच्चों के लिए आधारभूत शिक्षा और संख्यात्मक के लिए सही वातावरण सुनिश्चित करना। ताकि देश का हर बच्चा 2026-27 तक अच्छे से शिक्षा प्राप्त कर सके। इसके अंतर्गत बच्चे अब राइटिंग, रीडिंग और कंटेंट भी सीख सकते हैं। ये शिक्षा की ओर बढ़ने वाला ऐसा कदम है जिसको सरकार ने आगे बढ़ाने का बेड़ा उठाया है।

निपुण भारत योजना किन राज्यों में लागू होगी

ये अभियान देश के हर राज्य में लागू किए जाएगे। ताकि हर बच्चे को शिक्षा के साथ कुछ और सीखने का मौका मिल सके। क्योंकि शिक्षा में एक और योगदान काफी जरूरी है ताकि शिक्षा के क्षेत्र में भी हमारा देश आगे बढ़ सके।

निपुण भारत योजना किस तरह से लागू होगी

यह योजना 5 स्तर पर शुरू की जाएगी। जैसे- राज्य, ब्लॉक, राष्ट्रीय, जिला और स्कूल लेवल आदि। इसे राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सभी जगह शुरू किया जाएगा। जिसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। फिलहाल अभी इसके लिए सरकार और भी तैयारी कर रही है। जिसके जरिए बच्चों को एक नया रास्ता मिल सके। सरकार इस योजना को पहले शुरू करने के बारे में भी सोच सकती है।

निपुण भारत योजना लाभ/ विशेषताएं

इसके अंतर्गत बच्चे अब राइटिंग, रीडिंग और कंटेंट भी सीख सकते हैं। ये शिक्षा की ओर एक ऐसा कदम है जिसको सरकार ने बच्चों को आगे बढ़ने का मौका दिया है। ताकि बच्चों की पढ़ाई में एक और एक्टिविटी जुड़ जाएगी। इसी लाभ के कारण पेरेंट्स को भी बच्चों को आगे बढ़ते देखना अच्छा लगेगा।

आपको बता दें कि, इस तरह की योजना के बारे में सरकार पहले भी सोच-विचार कर रही थी। लेकिन अब इसका कार्य अब शुरू हुआ है। क्योंकि इसके जरिए ही सरकार शिक्षा के क्षेत्र में आगे काम कर पाएगी।

FAQ

Q : निपुण भारत योजना क्या है ?

Ans : आधारभूत शिक्षा और संख्यात्मक के लिए सही वातावरण सुनिश्चित करने के लिए शुरू की गई योजना है।

Q : निपुण भारत का फुल फॉर्म क्या है ?

Ans : नेशनल इनीशिएटिव फॉर प्रोफिसिएंसी इन रीडिंग विद अंडस्टैंडिंग एंड न्यूमरैसी भारत मिशन।

Q : निपुण भारत योजना किन-किन राज्यों में शुरू होगी ?

Ans : ये अभियान देश के हर राज्य में लागू किए जाएगे।

Q : निपुण भारत योजना को कैसे संचालित किया जायेगा ?

Ans : राज्य, ब्लॉक, राष्ट्रीय, जिला और स्कूल लेवल आदि।

Q :  निपुण भारत योजना  से क्या लाभ है ?

Ans : इसके अंतर्गत बच्चे अब राइटिंग, रीडिंग और कंटेंट भी सीख सकते हैं।

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here