नवीन रोजगार छतरी योजना 2020 | UP Naveen Rojgar Chatri Yojana in hindi

0
40

नवीन रोजगार छतरी योजना उत्तर प्रदेश 2020 ऑनलाइन आवेदन फॉर्म, पात्रता (Naveen Rojgar Chatri Yojana in hindi, Registration Form, Eligibility)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने प्रदेश के सभी वर्गों के लोगों को समान विकास प्रदान करने के लिए नवीन रोजगार छतरी योजना का शुभारंभ किया है। उत्तर प्रदेश राज्य की इस लाभकारी योजना के माध्यम से राज्य सरकार अपने प्रदेश के सभी अनुसूचित जाति के अंतर्गत आने वाले व्यक्तियों को योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से मजबूत करना चाहती है। सरकार का कहना है, कि यदि कोई जाति वर्ग आर्थिक एवं सामाजिक रूप से मजबूत रहता है, तो उसका विकास ज्यादा होता है और इसीलिए राज्य सरकार चाहती है, कि प्रदेश के सभी जाति वर्ग के लोगों को आवश्यक लाभ इस योजना के अंतर्गत प्रदान किया जाए। यदि आप भी राज्य सरकार की इस लाभकारी योजना का लाभ उठाकर अपनी आर्थिक स्थिति एवं सामाजिक स्थिति को मजबूत करना चाहते हैं, तो हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को कृपया आप अंत तक अवश्य पढ़ें आपको इस लेख में राज्य सरकार की इस लाभकारी योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

naveen rojgar chhatri yojana up hindi

Contents

नवीन रोजगार छतरी योजना पर एक महत्वपूर्ण प्रकाश बिंदु :

परिचयपरिचय बिंदु
योजना का नामनवीन रोजगार छतरी योजना
किस राज्य में शुरू की गईउत्तर प्रदेश राज्य
किसके माध्यम से शुरू की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी
कौन होगा योजना का लाभार्थीसभी प्रकार के अनुसूचित जाति वर्ग के अंतर्गत आने वाले व्यक्ति जन
योजना का उद्देश्यजरूरतमंदों को आर्थिक मदद प्रदान करना
योजना की आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन एवं ऑफलाइन

उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना मुख्य बिंदु –

  • उद्देश्य :- कोरोना वायरस की वजह से हुई महामंदी के वजह से सभी प्रकार के मजदूरों का रोजगार अब खत्म हो चुका है। अपने कार्य में योग्य एवं निपुण मजदूरों को उनके लायक कोई कार्य नहीं मिल रहा है, इन्हीं सभी चीजों को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार इस योजना के माध्यम से ऐसे लोगों को खुद के पैरों पर खड़े होने का योजना के माध्यम से एक उद्देश्य प्रदान कर रही है।
  • आर्थिक सहायता :- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने इस लाभकारी योजना को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लांच किया और उसी दौरान इन्होंने लगभग 3000 लाभार्थियों को उनके खाते में डायरेक्ट आर्थिक सहायता राशि को ट्रांसफर किया।
  • लक्ष्य :- उत्तर प्रदेश के राज्य सरकार का लक्ष्य है, कि आने वाले 1 सालों के अंदर अंदर करीब 7 लाख 50 हजार गरीब मजदूरों को लाभान्वित किया जाए। मुख्यमंत्री जी ने योजना के संबंधित विभाग को सूचित किया है, कि इस योजना के अंतर्गत शीघ्र से शीघ्र लोगों को लाभ प्रदान किया जाए।
  • अभी तक लाभान्वित लोग :- अब तक इस योजना के अंतर्गत लगभग 2 लाख गरीब मजदूरों को लाभ प्रदान किया गया है और आने वाले समय में लगभग 5 लाख से भी अधिक मजदूरों को योजना के अंतर्गत लाभान्वित करने का प्रावधान जारी किया गया है।
  • कुल राशि :- इस योजना को सुचारू रूप से जारी रखने एवं जरूरतमंदों को सहायता की राशि स्थानांतरित करने का कार्य पूरा उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाहन कर रही है। अब तक करीब योगी सरकार ने 17 करोड़ 50 लाख़ रुपए की आर्थिक सहायता राशि को सभी लाभार्थी मजदूरों को स्थानांतरित कर दिया है।

नए व्यापार कर सकते हैं शुरू :-

  • योजना को लांच करने के दौरान मुख्यमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई लाभार्थियों से डायरेक्ट संवाद किया। लाभार्थियों से संवाद करने के दौरान लाभार्थियों ने प्राप्त आर्थिक सहायता राशि को कैसे उपयोग में ले कर अपने लिए आर्थिक व्यवसाय शुरू करें इसके बारे में थोड़ा चर्चा की। लाभार्थियों ने बताया, कि वह इस राशि से किराने की दुकान, लॉन्ड्री की दुकान, टेलरिंग की दुकान, चाय की दुकान, नाश्ता एवं लंच कराने की दुकान, नाई की दुकान, साइबर कैफे और टेंट आदि को खोलकर आर्थिक समस्या को दूर कर सकते हैं।
  • राज्य सरकार अपने प्रदेश के मजदूर व्यक्तियों को मनरेगा के अंतर्गत रोजगार तो देने का कार्य कर रही है, परंतु केवल 194 रुपए की राशि में प्रतिदिन रोजगार भी नहीं प्राप्त होता है, ऐसे में किस प्रकार से आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सकता है। उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने इन्हीं सभी समस्याओं को समझा है और योजना को प्रारंभ किया है।
  • योगी जी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी का सपना था, कि वे सभी वर्गों के लोगों को एक समान अधिकार प्रदान करें और उन्हें समाज में एक समान ही देखा जाए। योगी सरकार भी प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में आज यही कार्य करती हुई नजर आ रही है।

योगी सरकार द्वारा कोरोना काल में शुरू की गई मुख्य योजनाएं :-

  • मुख्यमंत्री योगी जी ने उत्तर प्रदेश सरकार में कोरोना वायरस की वजह से किए गए संपूर्ण भारतवर्ष में लॉकडाउन के दौरान अपने प्रदेश में श्रमिक भरण पोषण योजना को प्रारंभ किया था। इस योजना के अंतर्गत रोज कमा कर खाने वाले गरीब मजदूरों को बेसहारा लोगों को एवं प्रवासी मजदूरों को प्रतिमाह 1 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि डायरेक्ट उनके बैंक खाते में स्थानांतरित करती थी।
  • लॉकडाउन के दौरान और अभी आगे 5 महीनों तक भी उत्तर प्रदेश राज्य सरकार इनके पास राशन कार्ड है और जिनके पास राशन कार्ड नहीं था उन्हें भी मुफ्त में राशन वितरित करती थी, ताकि प्रदेश के राज्य में कोई भी व्यक्ति इस महा संकट में खाली पेट ना रह सके। राज्य सरकार 2 महीने में दो बार राशन को जरूरतमंदों के लिए वितरित करने का कार्य करती है।
  • राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार ने सभी प्रकार के जनधन खाताधारकों को प्रतिमाह 500 रुपए की राशि को स्थानांतरित सीधे उनके बैंक खातों में करने का कार्य किया था। सहायता राशि से सभी खाताधारकों ने अपने परिवारों की आर्थिक स्थिति को संभाले रखा.

योग्यता :-

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार सभी प्रकार के अनुसूचित जाति वर्ग के अंतर्गत आने वाले लोगों को लाभान्वित करने का कार्य करेगी और इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के मूल निवासियों को ही प्रदान किया जाएगा।

आवेदन फॉर्म प्रक्रिया :-

योगी सरकार ने इस योजना के बारे में प्रदान किए जाने वाले सभी प्रकार के लाभों को विस्तार से बताया परंतु अभी तक इस योजना का लाभ किन प्रक्रियाओं के माध्यम से प्राप्त किया जाएगा, इसके बारे में कोई स्पष्टता जारी नहीं की गई है।जैसे ही राज्य सरकार को ही प्रक्रिया समाजिक करेगी वैसे ही हम आपको इस लेख के माध्यम से अवश्य अपडेट प्रदान करेंगे।

उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार अपने प्रदेश के अनुसूचित जाति वर्गों के लिए इस योजना को प्रारंभ करने का कार्य कर रही है और सरकार का उद्देश्य है, कि सभी जाति वर्गों को एकदम मान्यता प्रदान की जाए और उन्हें समाज में एक दृष्टिकोण से देखा जाए।

FAQ :-

प्रश्न : उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छात्र योजना का लाभ मुख्य रूप से किस को प्रदान किया जाएगा ?

उत्तर :- इस लाभकारी योजना का लाभ केवल प्रदेश के अनुसूचित जाति वर्ग के व्यक्तियों को प्रदान किया जाएगा।

प्रश्न : उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना क्या है ?

उत्तर :- इस लाभकारी योजना को उत्तर प्रदेश राज्य में स्वयं योगी आदित्यनाथ जी ने प्रारंभ किया है। इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति वर्गों के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने का प्रावधान है, ताकि वे अपने बल पर स्वयं का रोजगार चुरू करके अपनी आर्थिक स्थिति को सुधार सकें।

प्रश्न : उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना के तहत कौन कौन से बिजनेस शुरू किए जा सकते हैं ?

उत्तर :- उत्तर प्रदेश सरकार की इस लाभकारी योजना का लाभ उठाकर आप बड़ी ही आसानी से कोई भी ऐसा व्यवसाय शुरू कर सकते हैं, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आ सके। योजना की सहायता राशि के अंतर्गत आप किराने की दुकान, नाश्ता पानी की दुकान, लॉन्ड्री की दुकान, चाय की दुकान एवं आदि ऐसे व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

प्रश्न : उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना का उद्देश्य क्या है ?

उत्तर :- लाभकारी योजना के माध्यम से प्रदेश की सरकार निम्न जाति वर्गो के लोगों को मान्यता प्रदान करना चाहती है और सरकार चाहती है कि सभी वर्गों के अंतर्गत आने वाले व्यक्तियों को एक समाज में सामान्य दृष्टि से देखा जाए।

प्रश्न : उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना के अंतर्गत कितने लोगों को लाभान्वित किया जाएगा ?

उत्तर :- इस योजना के माध्यम से प्रदेश की सरकार करीब 7.5 लाख गरीब मजदूरों को लाभान्वित करेगी ।

Other links –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here