Home Madhya Pradesh मध्यप्रदेश फरलो योजना 2021 , आवेदन

मध्यप्रदेश फरलो योजना 2021 [MP Furlough Scheme in Hindi], आवेदन

0

मध्यप्रदेश फरलो योजना 2021 [MP Furlough Scheme in Hindi], क्या है, लाभार्थी, पात्रता, आवेदन, ऑफिसियल वेबसाइट, हेल्पडेस्क [Scheme Kya hai, Beneficiaries, Government Employee, Eligibility, Application, Official Link, Helpdesk

सरकारी वेतन पाने हेतु आज भी लोग बड़ी संख्या में सरकारी नौकरी की भर्तियां निकलते ही तैयारी में जुट जाते हैं, पर कई बार सरकारी कर्मचारियों को नियमित तौर पर वेतन देना सरकार के लिए बड़ी चुनौती साबित होती है। अतः इसी समस्या के समाधान हेतु मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मध्य प्रदेश फरलो नामक योजना की शुरुआत करने का फैसला किया है, तो इस स्कीम के तहत किन सरकारी कर्मचारियों को क्या लाभ मिलेगा, इसकी पूरी जानकारी हम आपके लिए इस लेख में लेकर आए हैं अतः लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

mp furlough yojana in hindi

Table of Contents

मध्यप्रदेश फरलो योजना 2021

योजना का नामफरलो योजना
राज्यमध्य प्रदेश
लाभार्थीमध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारी
वर्ष2021
लांच2002 में
संबंधित विभागमध्य प्रदेश वित्त विभाग
अधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
टोल फ्री नंबरNA

मध्यप्रदेश फरलो योजना उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को छुट्टी के दरमियान आधा यानी की 50% सैलरी देना है। साथ ही सरकारी बजट की समस्या का समाधान करना भी है.

मध्यप्रदेश फरलो योजना लाभ

  • योजना के लाभार्थी:- इस योजना से मध्यप्रदेश के ऐसे सरकारी कर्मचारियों को फायदा होगा, जो लंबी छुट्टी लेना चाहते हैं, क्योंकि इस योजना के अंतर्गत वह कम से कम 3 साल और अधिक से अधिक 5 साल की छुट्टी ले सकते हैं। आपको बता दें कि3 साल या फिर 5 साल का समय पूरा होने से पहले वर्कर की छुट्टी खत्म नहीं होगी।
  • छुट्टी देना:- इस योजना के तहत मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारी कम से कम 3 साल और ज्यादा से ज्यादा 5 साल के लिए छुट्टी पर जा सकते हैं।
  • अन्य नौकरी करने की छूट:- छुट्टी के दरमियान एमपी का सरकारी कर्मचारी कोई भी प्राइवेट नौकरी या फिर अपना खुद का धंधा कर सकता है। जिसके लिए कोई भी बंधन नहीं है. इससे उसे छुट्टी के समय में भी पैसे कमाने का अतिरिक्त मौका मिल सकता है.
  • परिजनों को फायदा:- अगर किसी कर्मचारी की छुट्टी के दरमियान मौत हो जाती है, तो उसके रिलेटिव को अनुकंपा पोस्टिंग का फायदा मिलेगा यानि उन्हें सरकारी नौकरी मिल सकेगी।
  • पेंशन के हकदार:- इस योजना के अंतर्गत एमपी के सरकारी कर्मचारी पेंशन के हकदार भी रहेंगे, इसकी चिन्ता करने की उन्हें कोई आवश्यकता नहीं है।
  • सरकारी बजट में बचत:- चूंकि वर्तमान समय में मध्य प्रदेश सरकार सरकारी अधिकारियों पर हर साल सैलरी के तौर पर टोटल ₹60,000 करोड़ से भी ज्यादा रुपए खर्च करती है। इस योजना के लागू हो जाने के बाद कम से कम 1 से डेढ़ लाख सरकारी कर्मचारी इस योजना का फायदा लेंगे, जिसके कारण सरकार को ₹6 से 7000 करोड रुपए की बचत होने का अंदाजा है।

मध्य प्रदेश फरलो योजना पात्रता

मध्य प्रदेश फरलो योजना का लाभ लेने के लिए सरकारी कर्मचारी ही होंगे और साथ ही ऐसे सरकारी कर्मचारी जोकि मध्यप्रदेश के निवासी है, या मध्यप्रदेश में कार्यरत है. आपको बता दें कि इसमें वे सरकारी कर्मचारी पात्र नहीं होंगे जोकि –

  • पेंशन के लिए अयोग्य व्यक्ति :- मध्य प्रदेश फरलो योजना के लिए ऐसे कर्मचारी पात्र नहीं होंगे, जो डिपार्टमेंट के द्वारा पेंशन के लिए अयोग्य घोषित हो चुके हैं।
  • विशेष विभाग से जुड़े व्यक्ति :– ऐसे कर्मचारियों को भी इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा, जो स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग, उच्च शिक्षा विभाग, स्कूल एजुकेशन विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग, टेक्नोलॉजी एजुकेशन, मेडिकल शिक्षा विभाग तथा पुलिस विभाग के कुछ विशिष्ट पोस्ट पर काम कर रहे हैं।
  • Probationary सरकारी कर्मचारी :- ऐसे व्यक्ति जो Probationary सरकारी सेवक हैं, उन्हें भी इस योजना का फायदा नहीं प्राप्त हो सकेगा।
  • सस्पेंडेड कर्मचारी :- जो लोग सस्पेंडेड वर्कर हैं या फिर जिनके खिलाफ कोर्ट में किसी भी प्रकार का कोई भी कोर्ट केस चल रहा है, उन्हें भी मध्यप्रदेश फरलो योजना का फायदा नहीं मिलेगा।

मध्य प्रदेश फरलो योजना दस्तावेज

मध्य प्रदेश फरलों योजना के लिए डॉक्यूमेंट की जानकारी निम्नानुसार है।

• आधार कार्ड

• पैन कार्ड

• मोबाइल नंबर

• ईमेल आईडी

• पासपोर्ट साइज 4 रंगीन फोटो

• गवर्नमेंट आईडेंटिटी कार्ड

मध्य प्रदेश फरलो योजना की ऑफिशल वेबसाइट

मध्यप्रदेश फरलो योजना की शुरुआत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा की गई है इसका संचालन मध्यप्रदेश का वित्त विभाग करेगा, जिसकी अधिकारिक वेबसाइट की लिंक पर जाकर आप सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश फरलो योजना आवेदन

फिलहाल मध्यप्रदेश फरलो योजना के लिए किसी भी प्रकार की कोई भी आवेदन की प्रक्रिया लांच नहीं की गई है। जैसे ही कोई भी जानकारी सरकार द्वारा जारी की जाती है, हम आपको उसकी जानकारी अवश्य देंगे।

मध्य प्रदेश फरलो योजना टोल फ्री नंबर

अभी तक इस योजना के लिए कोई भी टोल फ्री नंबर जारी नहीं किया गया है। जैसे ही हमें किसी भी टोल फ्री नंबर की जानकारी प्राप्त होती है, हम उसे इस आर्टिकल में अवश्य अपडेट कर देंगे।

FAQ

Q : मध्य प्रदेश फरलो योजना किसके लिए बनाई गई है ?

 Ans : मध्य प्रदेश फरलों योजना मध्यप्रदेश के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए बनाई गई है।

Q : मूल रूप से फरलो योजना मध्यप्रदेश में कब से लागू है ?

Ans : मध्य प्रदेश फरलों योजना मूल रूप से मध्यप्रदेश में साल 2002 में 2 अगस्त से लागू है।

Q : फरलो का हिंदी में क्या मतलब होता है ?

Ans : फरलो का हिंदी में मतलब होता है “एक तय समय के लिए छुट्टी”

Q : एमपी फरलो योजना के लाभार्थी कौन होंगे ? 

Ans : सरकारी कर्मचारी।

Q : मध्य प्रदेश फरलो योजना की शुरुआत सबसे पहले किसने की थी ?

Ans : इस योजना की शुरुआत सबसे पहले साल 2002 में दिग्विजय सिंह की सरकार ने की थी।

Q : मध्यप्रदेश में ऐसे कितने कर्मचारी हैं, जो फरलो योजना का फायदा ले सकते हैं ?

Ans : एक अंदाज के मुताबिक मध्यप्रदेश में ऐसे डेढ़ लाख कर्मचारी हैं, जो मध्य प्रदेश फरलों योजना का फायदा ले सकते हैं।

 Other Links –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here