झारखंड फसल राहत योजना ऑनलाइन आवेदन Jharkhand fasal Rahat Yojana last date

0
65

झारखंड फसल राहत योजना, फसल बीमा योजना, 2020-21, किसान कर्ज (ऋण) माफ़ी योजना, ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन (Jharkhand Fasal Rahat (Bima) Yojana in Hindi) (Kisan Karj Mafi Yojana, Online Registration, Eligibility, Documents, List) लास्ट डेट

देश के किसानों की आय में बढ़ोतरी करने के लिए केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारों द्वारा लगातार कोशिशें की जा रही हैं. यहां बता दें कि कई बार ऐसा होता है कि प्राकृतिक आपदाओं की वजह से किसानों को काफी नुकसान हो जाता है. इसीलिए झारखंड की राज्य सरकार ने इस बात को ध्यान में रखते हुए झारखंड फसल राहत योजना को शुरू करने का ऐलान किया है. यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बदले में शुरू की है. अगर आपको इस योजना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो हमारे आज के इस लेख को पूरा पढ़ें क्योंकि आपको झारखंड फसल राहत योजना के बारे में सारी महत्वपूर्ण बातें इस आर्टिकल में मिल जाएंगी.

jharkhand fasal rahat yojana in hindi

अटल किसान मजदूर कैन्टीन योजना हरियाणा : ऐसे उठायें लाभ.

Contents

झारखंड फसल राहत योजना के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें

योजना का नामझारखंड फसल राहत योजना
किसने शुरू कीझारखंड सरकार
लाभार्थीझारखंड के नागरिक
उद्देश्यफसल का नुकसान होने पर आर्थिक सहायता देना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही लांच होगी
साल2020
हेल्पडेस्कNA
लास्ट डेट31 मार्च

झारखंड फसल राहत योजना क्या है Jharkhand fasal Rahat Yojana

यहां बता दें कि इस स्कीम के तहत अगर किसानों की फसलों को यदि प्राकृतिक आपदा की वजह से नुकसान हो गया है और वह किसान अगर बीमा कंपनी के द्वारा रजिस्टर्ड है तो उस समय किसान को बीमा कंपनी के जरिए नुकसान की राशि दी जाएगी. अगर कोई किसान इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो इसके लिए उस किसान को प्रीमियम की राशि का भुगतान करना अनिवार्य होगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फसल राहत योजना के तहत कई प्राकृतिक आपदाओं को शामिल किया गया है जैसे कि ओले पड़ना, सूखा पड़ना इत्यादि. इसलिए जो भी किसान इस योजना का फायदा लेना चाहते हैं उन्हें इस स्कीम के लिए आवेदन करना होगा. इस प्रकार फसल राहत योजना के शुरू होने से अब राज्य के किसानों को नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा और उनकी आय में भी वृद्धि होगी जिससे कि किसान आत्मनिर्भर बन सकेंगे. झारखंड की राज्य सरकार ने इस स्कीम के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन हेतु 100 करोड़ रुपए का बजट रखा है और यह स्कीम दिसंबर 2020 के आखिर तक शुरू हो जाएगी.

प्रगतिशील किसान सम्मान योजना हरियाणा : किसानों को मिल रहे हैं 75 हजार रूपये तक का ईनाम.

झारखंड फसल राहत योजना के साथ किया जाएगा किसानों का ऋण माफ Rin mafi Yojana

यहां आपको जानकारी दे दें कि झारखंड की राज्य सरकार ने झारखंड फसल राहत योजना के अलावा राज्य के सभी किसानों का ऋण माफ करने का फैसला भी किया है. इस प्रकार इस स्कीम के तहत किसानों को दिया गया ऋण भी माफ किया जाएगा और यहां बता दें कि इसके लिए सरकार ने 2,000 करोड़ रुपए का बजट रखा है. यह योजना झारखंड में दिसंबर 2020 के आखिर तक शुरू कर दी जाएगी. साथ ही आपको बता दें कि सरकार किसानों का ऋण माफ करने के लिए एक वेब पोर्टल भी शुरू करेगी ताकि सभी किसानों का डाटा वहां पर इकट्ठा किया जा सके. इस योजना को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए प्रशासन ने जिन किसानों ने बैंकों से कर्ज लिया है उनका आधार इनेबल करने के लिए निर्देश दिए हैं. ‌बता दें कि अभी तक 12 लाख लोन अकाउंट में से 6 लाख लोन अकाउंट का आधार इनेबल किया जा चुका है.

झारखंड फसल राहत योजना का उद्देश्य fasal Rahat Yojana aim

झारखंड फसल राहत योजना का सबसे मुख्य उद्देश्य उन सभी किसानों की आर्थिक मदद करना है जिनकी फसलें प्राकृतिक आपदाओं की वजह से खराब हो गई हैं ताकि उन्हें नुकसान से बचाया जा सके. इस प्रकार इस योजना के द्वारा किसानों की आर्थिक स्थिति सुधरेगी और वह सशक्त भी बन सकेंगे क्योंकि किसानों को फिर अपनी फसलों के होने वाले नुकसान की कोई चिंता नहीं रहेगी तथा वह अपना पूरा ध्यान अपनी खेती बाड़ी में ठीक प्रकार से लगा सकेंगे.

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना : राज्य के किसान ऐसे उठायें लाभ.

फसल राहत योजना झारखंड लाभ Jharkhand fasal Rahat Yojana benefit

  • इस स्कीम के तहत राज्य के सभी किसानों को प्राकृतिक आपदाओं की वजह से होने वाले नुकसान पर वित्तीय सहायता दी जाएगी.
  • यह योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के स्थान पर सरकार ने शुरू की है.
  • स्कीम के तहत सभी पंजीकृत किसानों को बीमा कंपनी द्वारा नुकसान की राशि दी जाएगी.
  • झारखंड के जो भी किसान फसल राहत योजना का फायदा लेना चाहते हैं उन सभी को इसके लिए अपना पंजीकरण करवाना पड़ेगा.
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों की आय में वृद्धि हो सकेगी और किसान आत्मनिर्भर भी बन सकेंगे.
  • इस योजना के कार्यान्वयन के लिए झारखंड राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपए का बजट रखा है.
  • जो किसान इस योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड होंगे उन सभी किसानों को प्रीमियम की राशि भरनी होगी.
  • यह स्कीम दिसंबर 2020 के आखिर में पूरे राज्य में शुरू कर दी जाएगी.

झारखंड फसल राहत योजना में पात्रता, दस्तावेज Jharkhand fasal Rahat Yojana eligibility, documents

  • लाभार्थी किसान झारखंड का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • राज्य के जो किसान पहले से किसी बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं वह सभी किसान स्कीम के लिए पात्रता रखेंगे.
  • किसान का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आईडी कार्ड
  • बैंक अकाउंट विवरण
  • लाभार्थी किसान का निवास प्रमाण पत्र
  • खेत का खाता नंबर/ खसरा नंबर के पेपर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • चालू फोन नंबर
  • आय प्रमाण पत्र

राज किसान साथी पोर्टल : किसान एक जगह से उठा सकेंगे सभी योजनाओं लाभ, ऐसे करें आवेदन.

झारखंड फसल राहत योजना पंजीयन fasal Rahat Yojana application form

अगर आप झारखंड फसल राहत योजना के तहत आवेदन देना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आपको अभी थोड़े समय तक इंतजार करना पड़ेगा क्योंकि सरकार ने अभी इस योजना की केवल घोषणा की है. परंतु सरकार जल्दी ही झारखंड फसल राहत योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू कर देगी. जैसे ही इससे संबंधित कोई जानकारी आती है तो हम आपको अपने आर्टिकल के द्वारा उसके बारे में बता देंगे.  

Jharkhand fasal Rahat Yojana FAQ

Q : झारखंड फसल राहत योजना को कहां पर शुरू किया गया है ?

Ans : झारखंड राज्य में.

Q : झारखंड फसल राहत योजना के तहत सरकार द्वारा कितनी राशि खर्च की जाएगी ?

Ans : 100 करोड़ रुपए.

Q : झारखंड फसल राहत योजना के तहत किसानों को कब लाभ दिया जाएगा ?

Ans : प्राकृतिक आपदाओं की वजह से फसल खराब होने पर.

Q : झारखंड फसल राहत योजना को किस योजना के बदले शुरू की जा रही है ?

Ans : प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना.

Q : झारखंड फसल राहत योजना को कब लागू किया जाएगा ?

Ans : दिसंबर 2020 के अंत तक.

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here