Home Other ग्राहक सेवा केंद्र (CSP) कैसे खोलें, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

ग्राहक सेवा केंद्र (CSP) कैसे खोलें, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

0

ग्राहक सेवा केंद्र क्या है, कैसे खोलें, सीएसपी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, कांटेक्ट नंबर, टोल फ्री नंबर, बैंक [Grahak Seva Kendra Kya hai] (Online Registration, Contact Detail, Toll free Number, Bank)

यदि आप व्यवसाय चलाने के लिए कोई आसान सा और सरल व्यापार का रास्ता ढूंढ रहे हैं तो ग्राहक सेवा केंद्र के बारे में सोच सकते हैं। आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे कि ग्राहक सेवा केंद्र क्या होता है और किस तरह से आप एक ग्राहक सेवा केंद्र खोलकर व्यवसाय के रूप में चलाकर अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं। ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होता है जिसकी पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में मिल जाएगी।

grahak seva kendra kaise kholen in hindi

ग्राहक सेवा केंद्र क्या है

ग्राहक सेवा के नाम से ही आप समझ गए होंगे कि किसी व्यक्ति को सेवा प्रदान करने का एक ऐसा केंद्र जहां पर उसे उसकी जरूरत के अनुसार सुविधाएं दी जा सके। ग्राहक सेवा केंद्र अर्थात CPS की फुल फॉर्म customer service point है जहां पर आपको ज्यादा लागत की आवश्यकता नहीं होती और ना ही किसी डिग्री की। ग्राहक सेवा केंद्र की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी और यह शुरुआत ऐसे दूरदराज ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए की गई थी जिनके आसपास बैंक की सुविधा उपलब्ध नहीं है। आज भी भारत देश में ऐसे बहुत से ग्रामीण इलाके हैं जहां पर बैंकों की सुविधाएं नहीं पहुंची हैं इसलिए सीएसपी केंद्र खोले जाते हैं जिन्हें मिनी बैंक के नाम से भी जाना जाता है। मुख्य रूप से बैंक की सुविधाएं लोगों तक पहुंचाने के लिए ग्राहक सेवा केंद्र खोले जाते हैं।

ग्राहक सेवा केंद्र कैसे खोलें

ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के 2 तरीके सरकार द्वारा बताए गए हैं जिनमें से आप कोई भी तरीका अपनाकर आसानी से ग्राहक सेवा केंद्र खोल सकते हैं।

बैंक के जरिए :-

जैसा कि हमने आपको बताया कि ग्राहक सेवा केंद्र को मिनी बैंक भी कहा जाता है क्योंकि यह ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को बैंक से संबंधित सेवाएं प्रदान करने के लिए खोला जाता है। इसलिए यदि आप अपने ग्रामीण क्षेत्र में ग्राहक सेवा केंद्र खोलना चाहते हैं तो आप बैंक के मैनेजर से जाकर मिल सकते हैं और उन्हें बताएं कि आपके इलाके में आप एक नया ग्राहक सेवा केंद्र खोलना चाहते हैं। बैंक का मैनेजर आपसे थोड़ी बहुत जानकारी लेगा जैसे आपकी क्वालिफिकेशन और आप कितनी पूंजी लगा सकते हैं। सभी चीजों की वेरिफिकेशन के बाद बैंक से आपको अनुमति मिल जाएगी और बैंक की तरफ से आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड भी प्राप्त होगा जिसकी सहायता से आप अपना ग्राहक सेवा केंद्र चला सकते हैं। ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए सरकार की तरफ से 1.5 लाख रुपए का लोन लेने की सुविधा भी दी जाती है।

कंपनी के जरिए :-

भारत में ऐसी बहुत सारी कंपनी मौजूद है जो ग्राहक सेवा केंद्र खोलने में लोगों की मदद करती हैं। यदि आप किसी कंपनी के जरिए ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की सोच रहे हैं तो कंपनी के बारे में जांच-पड़ताल जरूर कर ले कहीं वह कंपनी धोखेबाज ना हो। किसी भी कंपनी के साथ जुड़कर काम करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी आपके पास होनी बेहद जरूरी है। ग्राहक सेवा केंद्र खोलने में मदद करने वाले कुछ मौजूदा कंपनियों के नाम vyam tech, FIA Global, Oxigen online, sanjivani. यह सब नामी कंपनियां हैं जिनसे संपर्क करके आप ग्राहक सेवा केंद्र आसानी से खोल सकते हैं।

ग्राहक सेवा केंद्र से इनकम

कोई भी व्यक्ति किसी व्यापार को तभी शुरू करता है जब उससे वह कुछ पैसा कमा सके। अपने ग्रामीण क्षेत्र में ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के बाद आप आसानी से 25 हजार रुपए से लेकर 30 हजार रुपए प्रतिमाह कमा सकते हैं। क्योंकि बैंक से जुड़ने के बाद आप जब लोगों को सेवा देंगे तो बैंक मित्र को प्रत्येक काम के लिए बैंक की तरफ से विभिन्न प्रकार की कमीशन प्रदान की जाती है। जिसका एक छोटा सा उदाहरण बैंक ऑफ बड़ौदा की तरफ से बैंक मित्रों को प्राप्त कमीशन का एक छोटा सा ब्यौरा यहां बताने जा रहे हैं।

  • आधार कार्ड द्वारा एक बैंक अकाउंट खोलने पर- ₹25 कमीशन
  • किसी व्यक्ति के बैंक अकाउंट को उसके आधार कार्ड से लिंक करने पर:- ₹5 कमीशन
  • यदि कोई व्यक्ति अपने बैंक अकाउंट में पैसे जमा कराता है या निकालता है तो:- प्रति ट्रांजैक्शन का 0.40%
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत अकाउंट खोलने पर:- ₹30 प्रति खाता प्रतिवर्ष
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना पर:- एक रुपए प्रति खाता प्रतिवर्ष

कुछ खास ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की प्रक्रिया

भारत के ऐसे बड़े बड़े बैंक है जो ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की अनुमति देते हैं जैसे

  • पीएनबी ग्राहक सेवा केंद्र
  • बीओपी ग्राहक सेवा केंद्र
  • एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र

अब हम आपको एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र ऑनलाइन खोलने की प्रक्रिया बताने जा रहे हैं उसी प्रकार विभिन्न बैंक द्वारा ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की विभिन्न प्रक्रिया जारी की गई है।

एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की ऑनलाइन प्रक्रिया

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि देश आजकल डिजिटल हो गया है इसलिए ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए भी आपको डिजिटल इंडिया की वेबसाइट पर जाना होगा। वहां पर एक छोटी सी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया करने के बाद आप एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र आसानी से खोल सकते हैं। ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए आपको निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  • डिजिटल इंडिया के तहत डिजिटल इंडिया की सीएसपी वेबसाइट पर आपको ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर ही सीधे हाथ की तरफ आपको सीएसपी खोलने की संपूर्ण योग्यता की जानकारी प्राप्त हो जाएगी। उसमें आप यह जान सकते हैं कि ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के लिए आपकी क्वालिफिकेशन क्या होनी चाहिए एवं अन्य संबंधित जानकारी भी आपको वहां से प्राप्त होगी।
  • यदि आप उन योग्यता मैं खरे उतरते हैं तो ऊपर दिए गए साइड में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर आप क्लिक कर सकते हैं।
  • जैसे ही आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करते हैं आपके सामने एक नया भेद खुल जाएगा जिसमें आपको एक फॉर्म दिखाई देगा।
  • उस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको सही तरीके से ध्यान पूर्वक भरनी होगी और फॉर्म को सबमिट के बटन पर क्लिक करके जमा कराना होगा।

फॉर्म को जमा कराने के बाद ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया संपूर्ण तो हो जाएगी परंतु उसमें कम से कम 15 से 20 दिन का समय लगेगा।

ग्राहक सेवा केंद्र के कार्य

ग्राहक सेवा केंद्र किस तरह से कार्य करता है और किस प्रकार की सुविधाएं आम तौर पर जनता को देता है उसकी एक छोटी सी सूची हमने यहां तैयार की है जो हम आपको बताने वाले हैं।

  • ग्राहक सेवा केंद्र के जरिए कोई भी व्यक्ति अपना बैंक अकाउंट खुलवा सकता है।
  • ग्राहक के अकाउंट को आधार तथा पैन कार्ड से लिंक करने का कार्य भी ग्राहक सेवा केंद्र पर होता है।
  • यदि ग्राहक अपने अकाउंट में पैसा जमा कराना चाहता है तो भी ग्राहक सेवा केंद्र का सहारा ले सकता है।
  • अपने अकाउंट से पैसा निकालने के लिए भी ग्राहक सेवा केंद्र पर जा सकता है।
  • यदि कोई व्यक्ति अपने बैंक का काम से संबंधित एटीएम कार्ड जारी कराना चाहता है तो भी ग्राहक सेवा केंद्र की मदद ले सकता है।
  • फंड ट्रांसफर कराने के लिए।
  • इंश्योरेंस सुविधाएं लेने के लिए
  • एफडी या आरडी कराने के लिए भी ग्राहक सेवा केंद्र मदद करते हैं।

ग्राहक सेवा केंद्र कांटेक्ट डिटेल (Toll free Number)

अन्य किसी जानकारी एवं शिकायत या सुझाव के लिए आप डिजिटल इंडिया की वेबसाइट पर जा सकते हैं या फिर डिजिटल इंडिया के मेन ऑफिस मैं अपनी शिकायत लिख कर भेज सकते हैं। डिजिटल इंडिया के मेन ऑफिस का पता नहीं चलिया गया है इसके अलावा आप फोन करके भी हमसे बात कर सकते हैं या फिर ईमेल आईडी के जरिए भी संपर्क करके अपनी बात रख सकते हैं।

डिजिटल इंडिया ऑक्सीजन प्राइवेट लिमिटेड 1137,

आरजी टावर अबव एरो शोरूम,

बेंगलुरु- 560038, कर्नाटक इंडिया

संपर्क सूत्र- +91 90735 70674

ईमेल आईडी- info@digitalindiacsp.in

FAQ

Q : ग्राहक सेवा केंद्र क्या होता है ?

Ans : ग्राहक सेवा केंद्र बैंकों द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं को ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों तक पहुंचाते हैं।

Q : CSP की फुल फॉर्म क्या है ?

Ans : Customer service point

Q : ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के कितने तरीके हैं और क्या ?

Ans : ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के 2 तरीके हैं पहला बैंक के जरिए दूसरा कंपनी के जरिए.

Q : ग्राहक सेवा केंद्र खोलने के बाद इनकम कैसे होती है ?

Ans : बैंक से संबंधित सुविधाएं ग्राहक को देने पर कुछ प्रतिशत कमीशन मिलती है.

Q : कुछ मुख्य ग्राहक सेवा केंद्र के नाम क्या है ?

Ans : PNB ग्राहक सेवा केंद्र, BOB ग्राहक सेवा केंद्र, SBI ग्राहक सेवा केंद्र.

अन्य पढ़ें –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here