पौनी पसारी योजना छत्तीसगढ़ 2020 | Pauni Pasari Yojana Chhattisgarh in hindi

0
78

पौनी पसारी योजना छत्तीसगढ़ 2020, क्या है, लांच, लाभार्थी, आवेदन, पात्रता, दस्तावेज (Pauni Pasari Yojana Chhattisgarh in Hindi) (CG, Beneficiaries, Eligibility, Application, Online Apply) 

छत्तीसगढ़ सरकार ने सीजी पौनी पसारी योजना का प्रारंभ किया है जिसके अंतर्गत पारंपरिक व्यवसाय को बढ़ावा देकर रोजगार के नए अवसर पैदा करने के मिशन पर ध्यान दिया जाएगा. छत्तीसगढ़ सरकार इस योजना की मदद से राज्य में मौजूद बेरोजगार लोगों के लिए नए व्यवसाय स्थापित करने और व्यवस्थाओं के लिए उन्हें सक्षम बनाने में सहायता प्रदान करेगी. इस योजना के तहत नगरीय निकायों के बाजारों में लाभार्थियों के व्यवसायियों को स्थान दिया जाएगा जिसके तहत 12000 नए लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकेगा. चलिए इस योजना को विस्तार पूर्वक जान लेते हैं ताकि छत्तीसगढ़ में मौजूद युवा बेरोजगार लोग इस योजना का लाभ उठा सकें.

pauni pasari yojana chhattisgarh in hindi

ई श्रेणी पंजीयन प्रणाली छत्तीसगढ़ – बेरोजगारों को मिलेंगे 25 हजार रूपये हर महीने, जानिए कैसे.

सीजी पौनी पसारी योजना के लांच की जानकारी

योजना का नामसीजी पौनी पसारी योजना
जारी करने की तिथिदिसंबर, 2020
लाभार्थीहथकरघा कारीगर
लाभयुवाओं को नए रोजगार देना और रोजगार के अवसर प्रदान करना
राज्यछत्तीसगढ़
योजना की वेबसाइटNA
योजना में आवेदन करने की तिथिNA

सीजी पौनी पसारी योजना 2020 क्या है

छत्तीसगढ़ राज्य में सीएम भूपेश बघेल की अध्यक्षता में एक बैठक 5 दिसंबर 2020 को हुई. इस बैठक के दौरान सीजी पौनी पसारी योजना को फिर से प्रारंभ करने का फैसला लिया गया जिसके अंतर्गत राज्य के लगभग 168 शहरी निकाय शामिल किए गए. इन निकायों में रहने वाले नागरिकों को और युवाओं को उनकी आजीविका के नए अवसर प्रदान करने का काम किया जाएगा.

पौनी पसारी योजना 2020 में शामिल लाभार्थी और एसोसिएटेड

इस योजना में 1 लाभार्थी सूची तैयार की गई है जिसमें निम्नलिखित संबंधित कार्यों को अंजाम दिया जाएगा और इन्हीं कार्यों में रोजगार के नए अवसर निकालकर बेरोजगार लोगों को रोजगार दिए जाएंगे.

  • मिट्टी के बर्तन बनाने वाले कुम्हार
  • कपड़े धोने वाले धोबी
  • जूते चप्पल जोड़ने और बनाने वाले मोची
  • लकड़ी संबंधित कार्य करने वाले कारपेंटर
  • पशुओं के लिए चारा जुटाने वाले लोग
  •  सब्जियों का उत्पादन करने वाले खेतिहर मजदूर
  • कपड़ों की बुनाई करने वाले बुनकर
  • कपड़ों की सिलाई करने वाले मास्टर
  • कंबल बनाने वाले लोग
  • मूर्तियां बनाने वाले मूर्तिकार
  • फूलों का व्यवसाय करने वाले माली
  • पूजन सामग्री बनाने वाले लोग
  • बांस के बर्तन एवं अन्य वस्तु बनाने वाले लोग.
  • बाल काटने और छटाई करने वाले नाई
  • दोना पत्तल बनाने वाले लोग
  • चटाई बनाने वाले लोग
  • आभूषण बनाने वाले कारीगर
  • सौंदर्य उत्पाद बनाने वाले कारीगर

इस योजना के में मुख्य रूप से छोटे और हथकरघा कारीगरों को शामिल किया गया है ताकि इस योजना के जरिए उन्हें सहायता दी जा सके और नए लोगों को नए व्यवसाय.

मोर बिजली मोबाइल एप छत्तीसगढ़ की मदद से आप अपने बिजली बिल का भुगतान एवं जाँच सब कुछघर बैठे कर सकते हैं, जानिए क्या है यह एप्प.

पौनी पसारी योजना की आवश्यकता

पहले बाजारों में हाथ से बनी हुई चीजें अक्सर देखने को मिल जाती थी परंतु आज के समय में धीरे-धीरे हाथ से बनी हुई चीजें जैसे मशीन, पेंटिंग, खिलौने आदि बाजार में कम दिखने लगे हैं.  ऐसे में हाथ से बने हुए उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए और व्यक्तियों के हाथों के हुनर को बरकरार रखने के लिए सरकार ने इस योजना का प्रारंभ किया है. इस योजना से भारतीय संस्कृति को सुरक्षित करने में भी सहायता मिलेगी और ऐसे प्रतिभाशाली लोगों को आर्थिक रूप से सहायता प्राप्त हो सकेगी जो पारंपरिक काम सालों से करते आए हैं परंतु उनके काम की पहचान नहीं बन पाई है जिसकी वजह से वह अपनी वित्तीय स्थिति से गुजर रहे हैं.

जैसे-जैसे आधुनिकीकरण की और लोग बढ़ते जा रहे हैं हम पारंपरिक वस्तुओं से दूर होते जा रहे हैं ऐसे में पारंपरिक प्रणाली विलुप्त होती नजर आ रही है. आधुनिकीकरण को साथ लेते हुए पारंपरिक व्यवसाय में लोगों को जोड़कर उन्हें रोजगार के नए स्रोत प्रदान करने की योजना सरकार ने तैयार की है जिससे शहरी और ग्रामीण जीवन दोनों ही पर गहरा प्रभाव पड़ेगा.

जानिए सुराजी गांव योजना छत्तीसगढ़ क्या है और किस मिल रहा है लाभ.

सरकार की इस पहल से छत्तीसगढ़ में मौजूद पारंपरिक वस्तुओं की बनावट में काफी हद तक बढ़ोतरी आएगी और साथ ही रोजगार के नए अवसर पाकर छत्तीसगढ़ राज्य की वित्तीय स्थिति में भी काफी हद तक सुधार आएगा. साथ ही हथकरघा कारीगर अपनी प्रतिभा को देश विदेशों तक पहुंचाकर छत्तीसगढ़ का नाम भी रोशन कर सकेंगे.

FAQ

Q :  पौनी पसारी योजना 2020 में सरकार ने किन व्यवसाय को बढ़ावा देने का प्रयास किया है ?

Ans : पारंपरिक व्यवसाय

Q : पौनी पसारी योजना किस राज्य में लागू की गई है ?

Ans : छत्तीसगढ़

Q : पौनी पसारी योजना में कितने ग्रामीण और शहरी निकाय शामिल किए गए हैं ?

Ans : 168

Q  इस योजना के अंतर्गत किस प्रकार के कारीगरों के व्यवसाय को बढ़ावा दिया जाएगा ?

Ans : हाथ के कारीगर

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here